BHOPAL SAMACHAR की खबर का असर: मुख्यमंत्री ने भगवान राम का पहाड़ बचाया, कलेक्टर तुड़वाने वाले थे

एक बार फिर BHOPAL SAMACHAR की उपयोगिता प्रमाणित हुई। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने खबर पर तत्काल कार्रवाई करते हुए भगवान श्री राम की प्रतिज्ञा वाले सिद्धा पहाड़ पर उत्खनन की प्रक्रिया को तत्काल रोकने के आदेश दिए हैं। 

उल्लेखनीय है कि सतना जिले के कलेक्टर द्वारा करोड़ों राम भक्तों के आस्था का केंद्र सिद्धा पहाड़ पर उत्खनन की अनुमति दे दी थी। बताया गया था कि इस पहाड़ को तोड़कर बेचने का काम कटनी में भारतीय जनता पार्टी के विधायक संजय पाठक के मित्र को मिला था। भोपाल समाचार ने 30 अगस्त को इस मामले को पूरी संवेदनशीलता के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और जनता के बीच प्रस्तुत किया था। इसके बाद यह मामला नेशनल मीडिया और पूरे मध्यप्रदेश में चर्चा का विषय बन गया था।

न केवल विपक्षी कांग्रेस पार्टी के लोग सरकार को टारगेट कर रहे थे बल्कि जागरूक नागरिक एवं भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता भी इस फैसले से नाराज थे। आज दिनांक 2 सितंबर 2022 को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि, सिद्धा पहाड़, सतना जैसे अमूल्य सांस्कृतिक धरोहर स्थान जो हमारे आस्था और श्रद्धा के केंद्र हैं, यहां की पवित्रता को अक्षुण्य रखा जाएगा । यहां उत्खनन किसी कीमत पर नहीं होगा। सतना जिला प्रशासन को निर्देश दे दिए गए है।