मध्य प्रदेश मानसून- 14 जिलों में भारी बारिश होगी, दिल्ली, यूपी और राजस्थान में भी खतरा- MP WEATHER FORECAST

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मध्य प्रदेश के 14 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। वैज्ञानिकों ने बताया कि बादल उत्तर प्रदेश की तरफ बढ़ रहे हैं। इसलिए मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के सीमा क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है। वैज्ञानिकों का कहना है कि 18 सितंबर तक बादलों की रवानगी होती रहेगी और मौसम इसी प्रकार खतरनाक बना रहेगा। 

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- 14 जिलों के लिए येलो अलर्ट

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार ग्वालियर शिवपुरी गुना अशोकनगर दतिया सागर दमोह छतरपुर टीकमगढ़ पन्ना भिंड सीहोर देवास एवं बेतूल जिलों में भारी वर्षा की संभावना है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि उपरोक्त जिलों के कुछ इलाकों में 115 मिलीमीटर तक बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है। नागरिकों से अपील की गई है कि सावधान रहें और मौसम को ध्यान में रखते हुए अपनी योजना बनाएं। 

मध्य प्रदेश के 4 जिले अभी भी सूखे

उपरोक्त के साथ-साथ भोपाल नर्मदापुरम एवं चंबल संभाग के सभी जिलों में भी गरज चमक के साथ बारिश होगी। मध्य प्रदेश में बुधवार सुबह साढ़े आठ बजे तक सीजन की कुल 1057.4 मिमी. वर्षा हो चुकी है, जो सामान्य वर्षा (886.6 मिमी.) के मुकाबले 19 प्रतिशत अधिक है। हालांकि अभी भी चार जिलों रीवा, सीधी, दतिया एवं आलीराजपुर में सामान्य से कम वर्षा हुई है। 

दिल्ली एनसीआर, उत्तर प्रदेश एवं राजस्थान में मौसम का पूर्वानुमान

दिल्ली एनसीआर के साथ उत्तर प्रदेश में एक बार फिर मानसून सक्रिय हो गया है। मंगलवार देर रात को हुई तेज बारिश के बाद बुधवार को भी कई जिलों में बादल छाए हुए हैं तो कई जिलों में सुबह से ही रुक-रुक बारिश हो रही है। बारिश से लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली है। इसके साथ ही मौसम सुहावना हो गया है। अगले 48 घंटे दिल्ली समेत उत्तर प्रदेश के 35 जिलों और राजस्थान में अति भारी बारिश की संभावना है। इसके साथ ही तेज गरज के साथ आंधी-तूफान का भी अलर्ट जारी किया गया है और लोगों से जरूरी काम न होने पर घरों से बाहर नहीं निकलने की अपील की गई है।