MP NEWS- सावन के बाद शिवना ने किया पशुपतिनाथ का अभिषेक, पूरामंदिर जलमग्न

मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में स्थित पशुपतिनाथ शिव मंदिर, जो लाखों श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है, जलमग्न हो गया है। शिवना नदी भगवान शिव का सीधा अभिषेक कर रही है। शिवलिंग पानी में डूब गया है। 

शिवान नदी में बाढ़, शिवलिंग पानी में डूबा, शहर में उत्सव

मध्य प्रदेश में लगातार बारिश हो रही है। इसके कारण शिवान नदी का भी जलस्तर बढ़ता चला जा रहा है। मंगलवार की सुबह नदी का जल मंदिर परिसर में प्रवेश कर गया। इसी के साथ मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया गया। दिनांक 16 अगस्त 2022 को सुबह 8:00 बजे भगवान पशुपतिनाथ अष्ट मुखी शिवलिंग के आठों मुख पानी में डूब गए हैं। याद दिलाना जरूरी है कि सन 2019 के बाद यह स्थिति बनी है। 2019 में पूरा मंदिर डूब गया था। सिर्फ शिखर के दर्शन हो रहे थे। मंदसौर के लोग इसे अत्यंत शुभ और मंगलकारी मानते हैं। मंदसौर में उत्सव शुरू हो गया है। 

यह शिवलिंग शिवान नदी से प्राप्त हुआ था

भगवान पशुपतिनाथ का भारत में एकमात्र मंदिर मध्यप्रदेश के मंदसौर में स्थित है। यहां महादेव का अष्ट मुखी शिवलिंग स्थापित है। कहते हैं कि यह शिवलिंग शिवान नदी से प्राप्त हुआ था। 18 वर्ष तक शिव दर्शन अग्रवाल के बगीचे में रखा रहा। बाद में भागवताचार्य श्री श्री 1008 स्वामी प्रत्यक्षानंद जी द्वारा मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा की गई थी।