JABALPUR NEWS- महिला पत्रकार की गोली मारकर हत्या, बॉयफ्रेंड कथित पत्रकार गायब

जबलपुर। 
मध्य प्रदेश में हाईवे पर नर्मदा के पुल पर कार में युवती की गोली मारकर हत्या कर दी गई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस को कार की पिछली सीट पर अनिभा केवट (25) का रक्तरंजित शव मिला। अनिभा के शरीर पर गोली लगने के निशान मिले। अनिभा केवट आइटी पार्क स्थित निजी कंपनी में टीम लीडर के पद पर कार्यरत थी।

पुलिस ने कार की तलाशी ली तो एक पिस्टल, एक कारतूस का खोखा, एक माइक आइडी जिसमें आज तक 24/7 लिखा है। प्रेस लिखा एक परिचय पत्र मिला, जिसमें बादल पटेल निवासी बिलपुरा अंकित है। कार से एक मोबाइल फोन भी जब्त किया गया। कार के समीप नर्मदा पुल पर किसी पुरुष की चप्पलें पाई गईं, जिससे आशंका जताई जा रही है कि अनिभा को गोली मारने वाले ने पुल से नर्मदा में छलांग लगा दी। बादल फर्जी पत्रकारों के गिरोह का सक्रिय सदस्य रहा है। पुलिस ने फर्जी पत्रकारों के गिरोह के खिलाफ FIR दर्ज कर कार्रवाई की थी। 

जांच में पता चला है अनिभा केवट का बादल पटेल के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। शनिवार दोपहर बादल पटेल अनिभा के कार्यालय पहुंचा जहां से उसे घुमाने के लिए लेकर निकला। जिसके बाद शाम करीब छह बजे अनिभा की लाश मिली एवं बादल पटेल गायब है। अनिभा अपना मोबाइल कार्यालय में छोड़कर गई थी। कार से जब्त मोबाइल बादल का हो सकता है। घटनास्थल का जायजा लेने के बाद पुलिस ने आशंका जताई है कि अनिभा को गोली मारने के बाद बादल ने नर्मदा में छलांग लगा दी। हालांकि इसके स्पष्ट प्रमाण नहीं मिल पाए हैं। संदेह के आधार पर पुलिस गोताखोरों के माध्यम से नर्मदा में बादल की तलाश कराएगी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार अनिभा और बादल का पांच वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। लेकिन फर्जी पत्रकार प्रकरण में बादल के जेल जाने के बाद दोनों में अनबन चल रही थी। बादल की हरकतों से परेशान होकर अनिभा उससे दूर होना चाहती थी। बादल को लगा कि अनिभा की दोस्ती किसी और युवक से हो गई है जिसके कारण वह अक्सर उससे विवाद करने लगा था।