ITARSI-NAGPUR रेलवे ट्रैफिक जाम, पानी में डूबी पटरियां- MP NEWS

भोपाल
। मध्य प्रदेश से नागपुर महाराष्ट्र की तरफ जाने वाला रेलवे ट्रैफिक जाम हो गया है। इटारसी और नागपुर के बीच में रेलवे ट्रैक पानी में डूब गया है। उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में लगातार बारिश होने के कारण हालात चिंताजनक हो गए हैं। इटारसी शहर में भी पानी भर गया है। कई मोहल्ले एवं कॉलोनियों में सड़कें बरसाती नदी जैसी बन गई है। इटारसी रेलवे स्टेशन पर रेलवे ट्रैक पर भी पानी भर गया है।

इटारसी से नागपुर रेल रूट पर कीरतगढ़-ताकू के बीच ट्रैक पर पानी आ गया। गाड़ी संख्या 20806 नई दिल्ली-विशाखापत्तनम एक्सप्रेस और 12616 नई दिल्ली-चेन्नई जीटी एक्सप्रेस को इटारसी स्टेशन से डायवर्ट रूट वाया खंडवा-बडनेरा-वर्धा-बल्लारशाह होकर चलाया जा रहा है।  इटारसी में देर रात से हो रही बारिश की वजह से न्यू यार्ड डबल स्टोरी के पीछे वैशाली नगर में लोगों के घरों में पानी घुस गया। इंदिरा नगर, पुरानी इटारसी देवल मंदिर के पास 4 से 5 फीट तक जल जमाव हो गया।

नर्मदा नदी पर बना तवा डैम फुल टैंक लेवल के नजदीक पहुंच गया है। बांध का अधिकतम लेवल 1166 सीट है और फिलहाल बांध में 1158 फीट पानी भरा हुआ है। यानी कि बांध ओवरफ्लो होने की स्थिति में आ गया है इसके कारण तवा डैम के एक साथ 10 गेट खोल दिए गए। नतीजा नर्मदा नदी में बाढ़ की स्थिति बन गई है। सरकार ने होशंगाबाद, धार, आलीराजपुर, हरदा, देवास, सीहोर, रायसेन और खंडवा जिलों में नर्मदा के किनारे रहने वालों को अलर्ट जारी किया है। किनारे खाली कर देने के लिए कहा गया है। 

मध्यप्रदेश में राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जा चुका है। बाढ़ और जलभराव की जानकारी देने के लिए इमरजेंसी टोल फ्री नंबर 1070 और 1079 पर कॉल करके सहायता ली जा सकती है। 52 जिला मुख्यालयों पर इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर (EOC) स्थापित किए गए हैं। 96 क्विक रिस्पॉन्स टीम (QRT) कार्य कर रही है।