आकाशीय बिजली से बचने के बचने के तरीके - Avoid and Forecast Thunderstorms

Avoid and Forecast Thunderstorms

आकाशीय बिजली (ठनका अथवा बज्रपात) एक ऐसी प्राकृतिक आपदा है जिसमें पलक झपकते ही मृत्यु हो जाती है। इस मामले में सिर्फ बचाव ही उपाय है। शिकार व्यक्ति जीवित नहीं रहता। इस मामले में ज्ञान बढ़ाने की नहीं जान बचाने की जरूरत है इसलिए हम आपको बताएंगे कि जब आसमान से बिजली गिरती है तो हमें क्या क्या सावधानी रखनी चाहिए? 

बज्रपात का खतरा किन लोगों पर ज्यादा होता है

सबसे पहले यह समझ लीजिए कि वज्रपात का खतरा उन लोगों पर सबसे ज्यादा होता है जो मौसम खराब होने पर भी खेतों में काम कर रहे होते, किसी पेड़ के नीचे छुपे होते हैं या फिर नदी तालाब अथवा ऐसे किसी जलाशय में उपस्थित होते हैं। इस मौसम में सभी लोगों को यह हमेशा याद रहना चाहिए कि बिजली गिरने से खुद को कैसे बचाएं।

घर के अंदर वज्रपात से बचने के लिए क्या करें 

  • यदि आप घर के अंदर हैं और बादलों की गड़गड़ाहट सुनाई देती है तो तत्काल सभी इलेक्ट्रिक एवं इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के प्लग निकाल दें। केवल स्विच ऑफ करने से काम नहीं चलता। डिस्कनेक्शन जरूरी है। 
  • खिड़कियां एवं दरवाजे बंद कर दें। खुले बरामदे और छत पर ना जाएं।
  • ऐसी हर चीज से दूर रहें जहां करंट आने की संभावना है। रबर की स्लीपर या प्लास्टिक की चप्पल पहने।
  • धातु से बने पाइप, नल, फव्वारा, वाश बेसिन आदि के संपर्क से दूर रहे। 

घर के बाहर आकाशीय बिजली से बचने के लिए क्या करें

  • वृक्ष बिजली को आकर्षित करते हैं। इसलिए मौसम खराब होने पर उनके पास ना जाएं।
  • ऊंची इमारतों वाले क्षेत्र में आश्रय न लें। 
  • समूह में खड़े होने के बजाय अलग- अलग हो जाएं। 
  • किसी निर्मित भवन में आश्रय लेना बेहतर है। 
  • यदि आप किसी वाहन में है तो मौसम खराब होने पर भी उसी में बने रहे।
  • खुली छत वाले वाहन की सवारी न करें। 
  • धातु से बने वस्तुओं का उपयोग न करें। 
  • बाइक, बिजली या टेलीफोन का खंभा तार की बाड़ और मशीन आदि से दूर रहें। 
  • तालाब और जलाशयों से दूर रहें। 
  • यदि आप पानी के भीतर हैं, अथवा किसी नाव में हैं तो तुरंत बाहर आ जाएं।

बज्रपात का पूर्वानुमान कैसे लगाएं

यदि आकाशीय बिजली चमक रही है और आपके सिर के बाल खड़े हो जाएं व त्वचा में झुनझुनी होने लगे तो फौरन नीचे झुककर कान बंद कर लें। क्योंकि यह इस बात का सूचक है कि आपके आसपास बिजली गिरने वाली है।

बज्रपात के शिकार व्यक्ति का प्राथमिक उपचार कैसे करें

बिजली का झटका लगने पर जरूरत के अनुसार व्यक्ति को सीपीआर, कार्डियो पल्मोनरी रेसिटेंशन यानि कृत्रिम सांस देनी चाहिए। तत्काल प्राथमिक चिकित्सा देने की व्यवस्था करनी चाहिए।

क्या मोबाइल फोन पर बिजली गिर सकती है 

मोबाइल फोन एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है और स्मार्टफोन में काफी पावरफुल एंटीना होता है जो तरंगों को अपनी और आकर्षित करता है। तकनीकी विशेषज्ञ की सलाह देते हैं कि बादलों की गड़गड़ाहट होने पर यदि आप किसी ऐसे स्थान पर हैं जहां पर बिजली गिरने की संभावना है तो आपको तत्काल अपना मोबाइल फोन स्विच ऑफ कर देना चाहिए।

आकाशीय बिजली कब गिरती है 

आकाशीय बिजली हमेशा धरती से ऊष्मा मिलने के बाद गिरती है। एक अध्ययन में पाया गया है कि जिन स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरी, वहां घटना से पहले तापमान 36 डिग्री सेल्सियस से अधिक था। यानी कि यदि आप किसी ऐसे स्थान पर हैं जहां पर उमस बहुत ज्यादा है और अचानक बादलों की गड़गड़ाहट शुरू हो जाती है तो समझ लीजिए कि आप खतरे में हैं।