मध्य प्रदेश मानसून- 7 जिलों में भारी वर्षा होगी, वज्रपात का खतरा- MP WEATHER FORECAST

भोपाल
। भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा जारी मौसम का पूर्वानुमान एवं किसान मौसम बुलेटिन के अनुसार मध्य प्रदेश के 7 जिलों में भारी वर्षा की संभावना है। कुछ स्थानों पर जनजीवन प्रभावित हो सकता है इसलिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। उपरोक्त के अलावा उन जिलों की लिस्ट भी जारी की गई है जहां पर वज्रपात का खतरा है। वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम की यह स्थिति दिनांक 1 अगस्त 2022 तक बनी रह सकती है।

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- कहां कितनी बारिश होगी, किन जिलों में येलो अलर्ट 

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार अनूपपुर, डिंडोरी, उमरिया, कटनी, सिवनी, पन्ना, छतरपुर जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होगी। इनके अलावा शहडोल, सागर, भोपाल, ग्वालियर एवं चंबल संभागों के जिलों में तथा कटनी, सतना सिवनी, मण्डला, बालाघाट जिलों में सामान्य बारिश होगी लेकिन वज्रपात का खतरा बना हुआ है। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है यानी सावधान रहें और अपनी योजनाएं मौसम को ध्यान में रखते हुए बनाएं। 

मध्य प्रदेश मौसम समाचार- कहां कितनी बारिश हुई 

पिछले 24 घन्टो के दौरान मध्य प्रदेश के शहडोल एवं चंबल संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर रीवा, जबलपुर, सागर एवं ग्वालियर संभागों के जिलों में अनेक स्थानों पर तथा नर्मदापुरम भोपाल इंदौर एवं उज्जैन संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर वर्षा दर्ज की गई। सबसे ज्यादा बारिश नारायणगंज में 10 सेंटीमीटर बागली, तिरोडी 7. पाण्डुर्णा 6 न्यूहरसूद अमरपाटन, मवई, मोहगांव पन्ना 5. ओरछा, मण्डला, लखनादौन, सेमरिया 4. मुरैना, खातेगांव, पठारी, मऊगंज, टीकमगढ, बरघाट, त्योथर, बिजुरी, पथरिया शहडोल, मोहनगढ़, अमरकंटक, जैतहरी. जया. बुढार सीहोरा चांद, तेंदूखेड़ा एवं जबलपुर में 3 सेमी दर्ज की गई है।