मध्य प्रदेश मानसून- 7 जिलों में भारी बारिश, 12 में वज्रपात का खतरा- MP WEATHER FORECAST

भोपाल
। भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा जारी मौसम का पूर्वानुमान एवं किसान मौसम बुलेटिन के अनुसार मध्य प्रदेश के 7 जिलों में भारी बारिश होने का खतरा है जबकि 5 संभागों के कुछ इलाकों में और 12 जिलों में सामान्य बारिश होगी लेकिन वज्रपात का खतरा है।

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- कितने जिलों के लिए मौसम विभाग का येलो अलर्ट

मौसम केन्द्र, भोपाल के अनुसार मण्डला, बालाघाट, सिवनी, दमोह, सागर, सीहोर, देवास जिलों में भारी वर्षा की संभावना है। कुछ इलाकों में 115 मिलीमीटर तक बारिश हो सकती है। उपरोक्त के अलावा रीवा, शहडोल, नर्मदापुरम, भोपाल एवं चंबल संभागों के जिलों में तथा देवास, शाजापुर, आगर, बुरहानपुर, खण्डवा, खरगौन, सिवनी, मण्डला, बालाघाट, पन्ना, दमोह, सागर जिलों में सामान्य बारिश लेकिन वज्रपात का खतरा बना हुआ है। मौसम विभाग द्वारा ऊपर लिखे गए सभी जिलों और संभागों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। 

मध्य प्रदेश मौसम समाचार- कहां कितनी बारिश हुई 

पिछले 24 घन्टो के दौरान प्रदेश के शहडोल, रीवा, जबलपुर एवं चंबल संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानो पर तथा सागर, नर्मदापुरम, भोपाल, इंदौर, उज्जैन एवं ग्वालियर संभागों के जिलों में अनेक स्थानो पर वर्षा दर्ज की गई। सबसे ज्यादा वर्षा घनसौर क्षेत्र में 9 सेंटीमीटर, रामनगर 7, बीजाडांडी, सतना, शाहनगर, धनौरा निवास 6, पाली, नैनपुर, सिरमौर, सेगॉव 5, कुंडम, लखनादौन, लालबर्रा, नारायणगंज, कुरई, राजनगर, चदिया,मण्डला, मोहगॉव, केवलारी, शाहपुरा एवं बिरसिंहपुर में 4 सेमी हुई।