अच्छे अधिकारी के 10 गुण- 10 QUALITIES TO BECOME A GOOD BOSS in Hindi

बॉस बनने का शौक तो हम सभी को होता परंतु क्या आपको मालूम है कि ये एक बहुत ही जिम्मेदारी वाला काम है जिसमे आपको सभी को साथ में लेकर चलना होता है और सभी की प्रॉब्लम का सल्यूशन भी निकालना होता है। लेकिन इसके लिए कोई बहुत ज्यादा पीएचडी करने की जरूरत नहीं है बस कुछ छोटी -छोटी बातों का ही हमें ध्यान रखना है।

1. जो व्यक्ति आपके Under काम करता है और अगर वो गलती करता है तो समझ लीजिए कि वो आपके काम करने के लायक है यानी अगर वो काम करता है तभी तो गलती करेगा। अगर काम ही नहीं करेगा तो गलती कैसे करेगा?
2.ये गलतियाँ आपको उस व्यक्ति के अंदर झांकने का मौका देती है यानी गलतियाँ ही आपको बताती हैं कि कहाँ सुधार करने की जरूरत है?
3. बॉस बनने के बाद आपके अंदर खुद काम करने से ज्यादा, दूसरे लोगों से काम करवाने का तरीका आना चाहिए। परंतु आपको वो काम भी करना आना चाहिए जो आपको दूसरों से करवाना है। क्योंकि जब तक आपको खुद काम करने नहीं आएगा तब तक आप सही गलत का अंतर नहीं समझ पाएंगे।

4. इसके लिए आपको कभी थोड़ी पोलाइट रिक्वेस्ट भी करनी पड़ेगी और कभी थोड़ा अपने जूनियर्स को डांटना भी पड़ेगा।
5. पर एक बात याद रखें जब किसी को डांटना हो तो हमेशा अकेले में डांटे और जब किसी की तारीफ करनी हो तो हमेशा सबके सामने करें।
6. और यदि कभी आपने किसी को बेवजह किसी दूसरे कारण से डांट दिया तो सॉरी बोलने में भी कोई खास बुराई नहीं है क्योंकि इससे आपकी अहमियत आपके जूनियर्स की नजर में बढ़ेगी न कि घटेगी।

7. यानी की आपको एक बैलेंस अप्रोच लेकर चलना है जिसमे आपका काम भी हो जाये और दूसरे व्यक्ति में सुधार भी होता है।
8. चूँकि आप बॉस हैं तो नाम तो आपका ही खराब होगा इसलिए आपको अपने सब ऑर्डिनेट्स को सही दिशा में चलाने के लिए आपको एक पथ प्रदर्शक या गाइड की तरह से काम करना होगा।
9. इसके लिए आपके अंदर अंतर्वैयक्तिक बुद्धि(Interpersonal intelligence)  का होना बेहद जरूरी है। जिससे कि आप दूसरे की भावनाओं,  इरादों और क्षमताओं को आसानी से समझ सकेंगे।

10. एक अच्छा बॉस बनने के लिए आपके आईक्यू (IQ-Intelligence Quotient) के साथ साथ आपका ईक्यू (EQ-Emotional Quotient) भी हाई लेवल का होना चाहिए।