MP NEWS- लॉलीपॉप की डंडी गायब होगी, पॉल्यूशन बोर्ड का फैसला

भोपाल।
मध्य प्रदेश सहित पूरे देश में प्लास्टिक के उपयोग पर विरोध जारी है। 1 जुलाई से मध्यप्रदेश में ही नहीं बल्कि पूरे देश में सिंगल यूज प्लास्टिक पर रोक लगाने की तैयारी की जा रही है।

भारत सरकार के प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन (संशोधन) नियम 2021 के अनुसार प्लास्टिक व थर्माकोल से बने सिंगल यूज़ प्लस्टिक उत्पादों पर प्रतिबंध लगाया गया है। इस वजह से आने वाले दिनों में चाकलेट कैंडी में प्लास्टिक स्टिक दिखाई नहीं देगी। वहीं चौराहों पर मिलने वाले गुब्बारों के साथ भी प्लास्टिक स्टिक नहीं मिलेगी।

प्लास्टिक स्टिक सहित ईयर बड, गुब्बारों में इस्तेमाल होने वाली प्लास्टिक स्टिक, चाकलेट कैंडी स्टिक, आइस्क्रीम स्टिक, सजावट में उपयोग होने वाले थर्माकोल, प्लास्टिक व थर्माकोल से बने प्लेट, कप, गिलास, फाेर्क, चम्मच, स्ट्रा व ट्रे, मिठाई के बक्से, निमंत्रण पत्र, सिगरेट पैकेट को कवर करने वाली पैकिंग फिल्म, प्लास्टिक स्टीकर्स, 100 माइक्रान से कम मोटाई वाले प्लास्टिक व पीवीसी के बैनर आदि। इन वस्तुओं का इस्तेमाल नहीं करने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है।