MP NEWS- कन्यादान घोटाले में पंचायत सचिव सस्पेंड, कलेक्टर की कार्रवाई

निवाड़ी
। मध्य प्रदेश की कन्यादान योजना (मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना) में घोटाले के आरोपी ग्राम पंचायत सचिव अविनाश नायक को कलेक्टर तरुण भटनागर ने सस्पेंड कर दिया है और उनकी पत्नी कल्पना नायक के खिलाफ FIR दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। 

जिला पंचायत राज अधिकारी संजीव वशिष्ट ने बताया कि अभिलाषा केवट पत्नी लखन केवट निवासी ग्राम टपरियन थाना निवाड़ी ने आवेदन देकर बेटी रचना की विवाह सहायता के पैसे छल व कूट रचना कर हड़पने का आरोप लगाया है। अभिलाषा केवट पत्नी लखन केवट ने बताया कि बेटीवाई पत्नी रजू केवट निवासी ग्राम टपरियन ने अपनी फोटो लगाकर कल्पना नायक पत्नी अवनीश नायक निवासी रामनगर थाना निवाड़ी ने आईएफएसी कोड को काटकर अपने खाते में राशि डलवाने के संबंध में शिकायत की है।

जांच के समय अभिलाषा पत्नी लखन केवट ने बताया कि उनकी बेटी अर्चना की शादी जून 2021 में बबीना में महेश रैकवार से हुई थी। विवाह सहायता की राशि 1 साल बाद तक खाते में नहीं आई। इसके बाद उन्होंने अवनीश नायक से जानकारी चाही तो उन्होंने बताया कि राशि अभी तक नहीं आई है।

इसके बाद वो अपने पति के साथ जनपद कार्यालय निवाड़ी गई, तो पता चला कि शादी वाले रुपए स्वीकृत होकर खाते में डाले जा चुके हैं। जब पता लगाया गया तो मालूम पड़ा कि राशि 51 हजार अवनीश नायक की पत्नी कल्पना के खाते में डाली गई है। इसकी जानकारी अवनीश नायक को भी दी गई लेकिन वो मामले को घुमाते रहे और राजीनामें का दबाव बनाने लगे।

इसके बदले में अवनीष नायक ने उन्हें 95 हजार रुपए दिए और कागजों पर उनका अंगूठा लगवा लिया। शादी के पैसे उनकी बड़ी पुत्री रचना के नाम निकाले गए हैं, जबकि उनकी बड़ी बेटी रचना निवाड़ी में 12वीं क्लास में पढ़ रही है और उसकी अभी तक शादी नहीं हुई है। जांच में दस्तावेजों के परीक्षण के बाद रचना की शादी नहीं होना पाया गया और रचना की शादी के नाम पर 51 हजार रुपए स्वीकृत किए गए हैं, जो अन्य किसी के खाते में डाले गए हैं।

फर्जी तरीके से राशि स्वीकृत कराने व अन्य किसी खाते में राशि डालने के लिए दोषी पाए सचिव राजवली यादव, ग्राम पंचायत बिल्ट को निलंबित करने हेतु निर्देशित किया गया। साथ ही अन्य के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने हेतु मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को निर्देशित किया गया है।