JABALPUR NEWS - 10th की छात्रा CM के समझाने पर भी नहीं समझी, आत्मदाह किया

जबलपुर।
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी ने फेल होने वाले बच्चों के लिए विशेष संदेश दिया था। फिर भी जबलपुर शहर में हाईस्कूल रिजल्ट के बाद से तनाव में आई 10वीं की छात्रा ने सुसाइड कर लिया। छात्रा ने फेल होने पर खुद पर मिट्‌टी का तेल डालकर लगाकर आग लगा ली। जबलपुर मेडिकल में उसकी मौत हो गई। 

टीआई रीना पांडे के मुताबिक सूखा निवासी 16 वर्षीय शिवानी अहिरवार को 30 अप्रैल को झुलसने के चलते मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई। शिवानी के आखिरी बयान नहीं हो पाए। परिजनों ने बताया कि वह 10वीं की छात्रा थी। शनिवार को वह गुमसुम कमरे में अकेली बैठी थी। घर के लोग अपने-अपने काम में व्यस्त थी। तभी अचानक शिवानी की चीख से परिजन चौंक गए। दौड़ कर पहुंचे तो वह आग की लपटों में घिरी थी।परिजनों ने बोरे और कपड़े आदि डालकर किसी तरह आग बुझाया। उसे तुरंत लेकर मेडिकल पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने 95 प्रतिशत से अधिक झुलसना बताया। इलाज के दौरान थोड़ी देर बाद उसकी मौत हो गई। माढ़ोताल पुलिस ने रविवार को पीएम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द करते हुए प्रकरण को जांच में लिया है।

CM ने कहा था

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा था कि बच्चों, कई बार सफलता और असफलता परिस्थितियों पर निर्भर करती है। यदि असफल होना तो चिंता मत करना, निराश मत होना, 'रुक जाना नहीं योजना' अभी भी चालू है। आप तैयारी के बाद इसी साल फिर से परीक्षा दे पाओगे, आपका साल भी खराब नहीं होगा। अगर सफलता नहीं भी मिली, तो फिर से प्रयास करना। असफल होने की चिंता भी नहीं करना है। निराश नहीं होना है। फिर आगे की सफलता के लिए और भी मेहनत करना है। जबलपुर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया JABALPUR NEWS पर क्लिक करें.