INDORE NEWS - चौधरी हॉस्पिटल के डाक्टर और फैशन डिजाइनर युवती ने सुसाइड किया

इंदौर। मध्य प्रदेश में इंदौर शहर के बेटमा क्षेत्र के एक चिकित्सक ने जहर खाकर आत्महत्या का मामला सामने आया है। उनका इंदौर के एक निजी अस्पाताल में इलाज चल रहा था। 

पुलिस के अनुसार 58 वर्षीय डाक्टर वीरेंद्र प्रतापसिंह चौधरी ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। वह बेटमा में चौधरी अस्पताल के संचालक थे। डा. वीरेंद्र को बुधवार को उनके बेटे अभिषेक और देवाशीष ने इंदौर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां देर रात उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। भंवरकुआं थाना क्षेत्र में 22 वर्षीय युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के अनुसार युवती का नाम ममता जगन्नाथ गौड़ है और वह फैशन डिजाइनिंग की पढ़ाई कर रही थी। उसने पिल्याराव स्थित घर में खुदकुशी की। पुलिस आत्महत्या के कारणों की जांच कर रही है। 

मेरी बेटी ममता सोलंकी को विशाल बहुत परेशान करता था। वह मालवीय नगर में रहता है। इससे डरकर उसने रात में फांसी लगा ली। डेढ़ साल से परेशान कर रहा था। कहता था, मेरे पास रिवॉल्वर है, तेरी मां-नानी घर में अकेली रहती हैं, मां काम करने अकेली जाती है, दोनों को मार डालूंगा, इससे बेटी बहुत डर गई थी। मेरी बेटी जहां जॉब करने जाती थी, वहीं पीछे-पीछे चला जाता था। उसने जीने नहीं दिया मेरी बेटी को। उसने खुद को खतम कर लिया। उसने फैशन डिजाइन का कोर्स किया है।'

भंवरकुआं पुलिस के मुताबिक ममता कुछ समय से तनाव में चल रही थी। बुधवार को उसके दोस्त ने मिलने भी बुलाया था। उससे मिलकर आने के बाद से वह काफी तनाव में थी। दोस्त लगातार फोटो वायरल करके बदनाम करने की धमकी दे रहा था। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

TI शशिकांत चौरसिया के मुताबिक पिपल्याराव में रहने वाली ममता को रात में पिता जगन्नाथसिंह ने फंदे पर लटके देखा था। जिसके बाद पुलिस को सूचना की थी। ममता ने फैशन डिजाइनिंग का कोर्स किया था। वह इंदौर के एक शोरूम में नौकरी भी करने लगी थी। लेकिन करीब एक माह से मालवीय नगर में रहने वाला विशाल उसे परेशान कर रहा था। इसके चलते वह नौकरी छोड़कर घर पर रहने लगी थी।

पिता जितेन्द्र ने बताया कि डेढ़ साल पहले उनके परिवार में शादी थी। जहां विशाल निवासी मालवीय नगर का उससे परिचय हुआ था। विशाल ने इसके बाद ममता से दोस्ती की और शादी का प्रस्ताव रखा। लेकिन ममता ने शादी से इनकार कर दिया। इसके वह ममता को बदनाम करने और किसी अन्य से शादी नहीं करने को लेकर धमका भी रहा था।

परिवार के लोगों ने बताया कि बुधवार को ममता को विशाल ने फोटो वायरल करने की धमकी देकर मिलने बुलाया था। उसने उसका मोबाइल भी फोड़ दिया था। शाम को ममता घर पहुंची तब काफी तनाव में थी। इसके बाद उसने आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया। पुलिस के मुताबिक अभी सुसाइड नोट नहीं मिला है। पूरे मामले में परिवार के बयान के बाद स्थिति स्पष्ट होगी। ममता के पिता ऑटो चालक हैं। परिवार में एक बड़ी बेटी है जिसकी शादी हो चुकी है। इंदौर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया indore news पर क्लिक करें.