GWALIOR NEWS- पथरी के इलाज में दो लाख खर्च फिर भी आराम नहीं, डॉक्टर से विवाद

ग्वालियर
। BIMR हॉस्पिटल के यूरोलाजिस्ट डॉक्टर दीपांशु शर्मा और मरीज सूर्यभान सिंह तोमर के परिजन रूद्र भदौरिया के बीच विवाद हो गया। पथरी के इलाज में ₹200000 खर्च होने के बाद भी सूर्यभान सिंह को आराम नहीं मिल रहा था। डॉ दीपांशु शर्मा ने पुलिस से शिकायत की है कि रुद्र भदौरिया ने उन्हें धमकी दी है कि यदि मरीज की मृत्यु हो गई तो तू भी जिंदा नहीं बचेगा। 

इस मामले में दूसरे पक्ष सूर्यभान सिंह तोमर की ओर से डॉ दीपांशु शर्मा के खिलाफ इलाज में लापरवाही या ठगी अथवा धोखाधड़ी की कोई शिकायत नहीं की गई है। डॉ दीपांशु शर्मा ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया है कि वह बीआईएमआर हास्पिटल गोला का मंदिर में अपनी सेवाएं देते हैं। वहां पर कांच मिल का रहने वाला एक मरीज सूर्यभान सिंह तोमर का इलाज किया था। सूर्यभान को उल्टी होने शिकायत के चलते अस्पताल में भर्ती किया गया था। 

डॉ दीपांशु शर्मा ने दावा किया है कि उन्होंने ऑपरेशन करके पथरी निकाल दी थी लेकिन इसके बाद भी मरीज काे लाभ नहीं हुआ तो सूर्यभान के रिश्तेदार रुद्र भदौरिया ने डा दीपांशु को फोन कर खुद को बजरंग दल का कार्यकर्ता बताते हुए धमकाया। फोन पर रुद्र भदौरिया ने कहा कि तुम्हारे इलाज से मरीज को कोई लाभ नहीं हुआ और डेढ़ से दो लाख रुपये भी इलाज के नाम पर ले लिए। यदि मरीज मरा तो डाक्टर तू भी मरा। डॉक्टर की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें.