MP NEWS- उमा भारती भूख हड़ताल पर, रायसेन किले के शिव मंदिर का मामला

भोपाल।
मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा नेता उमा भारती रायसेन के किले में शिव मंदिर के बाहर भूख हड़ताल पर बैठ गई हैं। सुश्री भारती, भारत सरकार के पुरातत्व विभाग के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं। पुरातत्व विभाग में किले पर स्थित प्राचीन शिव मंदिर में ताला लगा रखा है। 

उमा भारती ने ऐलान किया था कि नवरात्रि के बाद पहले सोमवार को रायसेन के किले पर स्थित प्राचीन शिव मंदिर जाएंगी और ताले में बंद शिवलिंग का विधिवत अभिषेक करेंगी। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार उमा भारती रायसेन किले पर स्थित प्राचीन शिव मंदिर पहुंच गई है परंतु मंदिर में ताला लगा हुआ है। 

उमा भारती, शिव मंदिर के दरवाजे पर बैठ गई हैं। उन्होंने कहा कि हम ताला खुलवाना चाहते हैं, तोड़ना नहीं। अयोध्या आंदोलन में ताला खुलवाने का नारा था। आगे बढ़ो, जोर से बोलो और राम जन्मभूमि का ताला खोलो। ये ताला तो बहुत छोटा है, मेरे घूंसे से भी टूट जाएगा। जब तक ताला नहीं खुलेगा, अन्न त्याग रही हूं।

रायसेन किले के शिव मंदिर का विवाद क्या है

रायसेन किले शिव मंदिर का कोई विवाद नहीं है। यह मामला ना तो न्यायालय में विचाराधीन है और ना ही किसी भी प्रकार का कोई दावा किया जाता है। यह मंदिर भारत सरकार के पुरातत्व विभाग के अधीन है। पुरातत्व विभाग के पास बजट नहीं है इसलिए मंदिर की देखभाल और पूजा पाठ के लिए किसी की नियुक्ति नहीं की गई है और मंदिर में ताला डाल दिया गया है। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.

गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा का बयान