RVSKVV GWALIOR में भर्ती घोटाला, विधानसभा में सवाल, जांच के आदेश, कार्रवाई से बचने नियुक्तियां निरस्त

ग्वालियर
। The Rajmata Vijayaraje Scindia Krishi Vishwa Vidyalaya, Gwalior यानी कि ग्वालियर एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी में भर्ती घोटाला सामने आया है। जब मामला विधानसभा में उठा तो जांच के आदेश दे दिए गए और नियुक्तियों को निरस्त कर दिया गया। यह नियुक्तियां प्रथम श्रेणी स्तर के अधिकारियों की है। 

RVSKVV भर्ती घोटाला- कार्रवाई से बचने नियुक्तियां निरस्त कर दी

ताजा मामला राजमाता विजयाराजे सिंधिया कृषि विश्वविद्यालय ग्वालियर में संचालक अनुसंधान, संचालक विस्तार सेवाएं, संचालक शिक्षण और डीन के दो पदों पर नियम विरुद्ध नियुक्ति का है। जिसे राजनीति में भर्ती घोटाला कहा जाता है। इस मामले में जब भी सवाल किए गए, मैनेजमेंट की तरफ से दावा किया गया कि नियुक्ति में सभी नियमों का पालन किया गया है लेकिन जैसे ही मुरैना विधायक राकेश मावई ने इस मामले को विधानसभा में उठाया सभी नियुक्तियां निरस्त कर दी गई और जांच के आदेश दे दिए गए। विधायक राकेश मावई का कहना है कि भर्ती घोटाले के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। 

RVSKVV GWALIOR- सभी नियुक्तियों की जांच होनी चाहिए

विधानसभा में प्रश्न लगते ही नियुक्तियां निरस्त हो जाने के बाद यह तो स्पष्ट हो गया कि नियुक्तियों में नियमों का उल्लंघन हुआ है। अब सवाल यह है कि क्या केवल इन्हीं नियुक्तियों में गड़बड़ी हुई है या फिर सभी नियुक्तियों में घोटाला हुआ है। कृषि मंत्री कमल पटेल का कहना है कि जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई करेंगे लेकिन न्याय की स्थापना के लिए सभी नियुक्तियों की जांच होनी चाहिए। यह अनिवार्य नहीं है कि किसी भी जांच के लिए किसी शिकायत की आवश्यकता हो। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.