मध्य प्रदेश शिक्षक भर्ती- सेकंड काउंसलिंग के लिए ज्ञापन सौंपा - MP NEWS

भोपाल। सोमवार को शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने लोक शिक्षण संचालनालय कार्यालय पहुंचकर आयुक्त के नाम ज्ञापन पत्र सौंपा और स्थाई शिक्षकों के लिए द्वितीय काउंसलिंग कराने के साथ-साथ रिक्त पदों में वृद्धि की मांग की।

रणजीत गौर सहित अन्य अभ्यर्थियों ने ज्ञापन सौंपने के बाद बतलाया की जब प्रदेश शासन ने पात्रता परीक्षा के प्रमाण पत्र के अवधि को 2 वर्ष से बढ़ाकर 3 वर्ष कर दिया है। तब द्वितीय काउंसलिंग भी शीघ्र अति शीघ्र की जाए साथ ही साथ रिक्त पदों में वृद्धि भी की जाए। शेष रिक्त पदों पर अधिकतम पात्र अभ्यर्थियों को सम्मिलित करते हुए चयन सूची एवं अंतिम प्रतीक्षा सूची जारी कराने की मांग भी ज्ञापन पत्र में प्रमुख रूप से की गई है। 

पात्र अभ्यार्थियों के अनुसार प्रदेश सरकार द्वारा शिक्षित युवाओं के साथ शिक्षक भर्ती के नाम पर छलावा किया जा रहा है प्रत्येक विषय के हजारों पद रिक्त होने के बाद भी नाम मात्र के पदों पर स्थाई भर्ती की जा रही है। जनजाति विभाग से भी शिक्षक भर्ती अभी तक पूर्ण नहीं की गई है! वेटिंग वाले अभ्यार्थी एवं रिक्त पदों में वृद्धि वाले अभ्यर्थियों द्वारा बार-बार आवेदन/ज्ञापन सौंपकर समस्त रिक्त पदों पर स्थाई भर्ती की मांग की जा रही है। 

ज्ञात हो कि स्कूल शिक्षा विभाग एवं जनजातीय विभाग में स्थाई शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया पिछले 3 वर्षों से चल रही है और अभी तक लगभग 15,000 शिक्षकों को ही नियुक्ति पत्र प्रदान किए गए हैं शेष पात्र अभ्यर्थी अभी भी अपनी नियुक्ति के इंतजार में हैं। समय पर मांगे पूर्ण न होने पर 23 मार्च 'शहीद दिवस' के दिन पात्र अभ्यर्थी बड़ा आंदोलन भी कर सकते हैं। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें