MP पुरानी पेंशन- कर्मचारियों ने दिया हड़ताल का अल्टीमेटम, भोपाल पुलिस की कार्रवाई से नाराज - karmchari news

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कर्मचारियों द्वारा 13 मार्च को पुरानी पेंशन को लेकर प्रदर्शन किया जाना था। इसकी अनुमति भी मिल गई थी परंतु तैयारियां पूरी हो जाने के बाद अचानक अनुमति निरस्त कर दी गई। कर्मचारियों को कानूनी कार्रवाई की धमकी दी गई। इस बात से नाराज कर्मचारियों ने काम बंद हड़ताल पर जाने का फैसला किया है। सरकार को 15 दिन का अल्टीमेटम दे दिया गया है।

BHOPAL NEWS- कर्मचारियों को राजधानी में घुसने नहीं दिया था 

कर्मचारी संगठनों द्वारा विश्वास दिलाया गया था कि उनका प्रदर्शन शांतिपूर्ण है। ना तो किसी भी प्रकार की हिंसा होगी और ना ही यातायात को बाधित किया जाएगा लेकिन उसके बाद भी ना केवल उनका प्रदर्शन निरस्त कर दिया गया बल्कि सांकेतिक प्रदर्शन के लिए लगाया गया टेंट भी उखाड़ दिया गया। कर्मचारियों को भोपाल शहर की सीमा पर ही रोक दिया गया। सरकार के इस व्यवहार से कर्मचारियों में आक्रोश है और संगठन के नेता दबाव में हैं।

MP NEWS- कर्मचारियों को प्रदर्शन करने से रोका, अब काम बंद हड़ताल पर जाएंगे

प्रगतिशील संयुक्त कर्मचारी कल्याण संघ के प्रांतीय संयुक्त सचिव जितेंद्र खरे ने बताया, आंदोलन की ऐनवक्त पर परमिशन निरस्त कर दी गई और कर्मचारियों पर दवाब बनाया गया, लेकिन पुरानी पेंशन बहाली का मुद्दा जारी रहेगा। होली के बाद काम बंद हड़ताल करेंगे। इसे लेकर सहयोगी संगठनों से चर्चा कर रहे हैं।

MP OPS NEWS- पुरानी पेंशन मामले में कर्मचारियों द्वारा सरकार को 15 दिन का अल्टीमेटम

पुरानी पेंशन बहाली संघ के प्रदेश अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौहान ने बताया, 25 से 27 मार्च के बीच सरकार के मंत्रियों की मीटिंग होना है। संभवत: इसमें कोई निर्णय लिया जाए। इसलिए सरकार को 15 दिन की मोहलत दी गई है। यदि कोई फैसला नहीं होता है तो बिना अनुमति के ही प्रदर्शन करने उतरेंगे। कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP karmchari news पर क्लिक करें.