JU Gwalior News - एग्जाम समय होना मुश्किल, नई शिक्षा नीति के तहत एग्जाम स्कीम तय नहीं

ग्वालियर।
मध्य प्रदेश के ग्वालियर में स्थित जीवाजी विश्वविद्यालय (jiwaji university) में स्नातक की परीक्षा में एक लाख से ज्यादा विद्यार्थी बैठते हैं। परीक्षा सत्र समय पर लाया जा सके इस के लिए स्नातक परीक्षा का एक समय निर्धारित किया है। 

दरअसल इस बार स्नातक प्रथम वर्ष की परीक्षा नई शिक्षा नीति के तहत करानी है, लेकिन परीक्षा की स्कीम तय नहीं हुई है। जिससे परीक्षा समय पर शुरू होने की संभावना नहीं दिख रही है। परीक्षा कराने के पहले स्कीम तैयार की जाती है। पहले स्नातक द्वितीय व तृतीय वर्ष की परीक्षा शुरू की जाएगी। प्रथम वर्ष की अप्रैल में होगी। इस बार प्रथम वर्ष में 70 नंबर की थ्योरी होगी और 30 नंबर की आंतरिक परीक्षा। 

वहीं दूसरी ओर स्नातक द्वितीय व तृतीय वर्ष की परीक्षा 26 मार्च से शुरू हो सकती है। इस परीक्षा की स्कीम तय हो चुकी है। इस परीक्षा को देर से शुरू करने के पीछे नई शिक्षा नीति है। नई शिक्षा नीति के तहत नया सिलेबस है। इसके लिए नए सिरे से स्कीम बनानी होगी। इस परीक्षा को बाद में शुरू किया जा रहा है, लेकिन स्कीम नहीं होने से दिक्कत आ रही है। 

वर्जन-
स्नातक प्रथम वर्ष की परीक्षा के लिए अभी 22 दिन हैं। इन दिनों में स्कीम तैयार कर परीक्षा शुरू कर दी जाएगी। अभी पेपर प्रिंट कराने का कार्य किया जा रहा है। नामांकन का कार्य खत्म कर परीक्षा शुरू कराई जाएगी।
अनिल शर्मा, परीक्षा नियंत्रक जेयू उच्च शिक्षा, सरकारी और प्राइवेट नौकरी एवं करियर से जुड़ी खबरों और अपडेट के लिए कृपया MP Career News पर क्लिक करें