INDORE NEWS- 100 से ज्यादा कर्मचारी गिड़गिड़ाते रहे, शोरूम मालिक लेट गया फिर भी नगर निगम ने शोरूम तोड़ा

इंदौर
। नगर निगम ने रिमूवल की कार्रवाई करते हुए एमआइजी रोड पर स्थित 5 मंजिला शोरूम अन्नपूर्णा ड्रेसेस को तोड़ दिया। क्योंकि शोरूम मालिक के पास G+2 की बिल्डिंग परमिशन थी और शोरूम 5 मंजिल का था। कर्मचारियों ने सामान निकालने तक का समय मांगा परंतु नहीं दिया। शोरूम मालिक मशीन के सामने लेट गया, कर्मचारी भी लेट गए परंतु पुलिस की मदद से सब को हटाया और शोरूम तोड़ दिया। इस कार्रवाई से लोग दुखी थे क्योंकि 100 से ज्यादा कर्मचारी बेरोजगार हो गए जबकि यह केवल बिल्डिंग परमीशन का उल्लंघन था, सरकारी जमीन पर अतिक्रमण नहीं था। 

INDORE TODAY NEWS- G+2 की परमिशन पर 5 मंजिल बना लिए, इसलिए तोड़ दिया

एमआइजी रोड पर आज सुबह नगर निगम और पुलिस के अधिकारी एवं कर्मचारी बड़ी संख्या में एक साथ अन्नपूर्णा ड्रेसेस पर कार्रवाई करने पहुंचे। नगर निगम की तरफ से अधिकारी अनूप गोयल ने बताया कि इस शोरूम का प्लॉट साइज 5000 स्क्वायर फीट है। मालिक मिलिंद वासिमकर है। इनके पास G+2 (ग्राउंड फ्लोर और उसके ऊपर दो मंजिल, कुल 3 मंजिल) की परमिशन है जबकि उन्होंने 5 मंजिल शोरूम बना लिया है। इसके अलावा बेसमेंट भी बनाया है। इसीलिए कार्रवाई की जा रही है। 

INDORE HINDI NEWS- वासिमकर परिवार गिड़गिड़ाता रहा, किसी ने नहीं सुना

शुरुआत में शोरूम के मालिक वासिमकर परिवार के सदस्य मौजूद अधिकारियों से कुछ समय की मांग करते रहे परंतु अधिकारियों ने समय देने से इनकार कर दिया। फिर शोरूम के कर्मचारी और मालिक परिवार सामान निकालने के लिए थोड़ा सा समय मांग रहे थे। वह भी नहीं दिया गया। समय की मांग को लेकर शोरूम मालिक का परिवार और कर्मचारी गिड़गिड़ा रहे थे। कुछ महिला कर्मचारी फूट-फूट कर रोने लगी। सभी लोग मशीन के सामने आकर खड़े हो गए। शोरूम मालिक मशीन के नीचे जाकर लेट गया। 

INDORE SAMACHAR- शोरूम कर्मचारियों के प्रति सब की संवेदनाएं

इस सब के बाद भी, सामान हटाने का समय नहीं दिया गया। पुलिस की मदद से शोरूम के मालिक, उसके परिवार और शोरूम के कर्मचारियों को बल पूर्वक हटाया गया और शोरूम को तोड़ दिया गया। प्रत्यक्षदर्शियों की सहानुभूति शोरूम के कर्मचारियों के प्रति थी। उन्हें अपना सामान निकालने का समय दिया जाना चाहिए था। इंदौर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया indore news पर क्लिक करें.