अतिथि शिक्षक करेंगे 10वीं-12वीं परीक्षा का मूल्यांकन, एक बार फिर योग्यता साबित- MP NEWS

भोपाल।
शिवराज सिंह सरकार भले ही अतिथि शिक्षकों को अनुपयोगी मानती रहे परंतु उनकी योग्यता और उपयोगिता हमेशा साबित होती है। माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश भोपाल का ताजा दस्तावेज इसका प्रमाण है। नियमित शिक्षक मूल्यांकन नहीं कर पा रहे इसलिए 10वीं हाई स्कूल एवं बारहवीं हायर सेकेंडरी स्कूल परीक्षा का मूल्यांकन अतिथि शिक्षक करेंगे। 

मध्यप्रदेश में 10वीं-12वीं परीक्षा के मूल्यांकन में देरी

Madhya Pradesh Board of Secondary Education द्वारा जारी समय सीमा महत्वपूर्ण आदेश क्रमांक 165 दिनांक 31 मार्च 2022 के अनुसार हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी परीक्षा वर्ष 2022 का मूल्यांकन कार्य जारी है परंतु नियमित शिक्षक ठीक प्रकार से मूल्यांकन नहीं कर पा रहे। शिक्षा विभाग के पास NSQF, समाजशास्त्र, भूगोल, कृषि संकाय, इनफॉर्मेटिक प्रैक्टिस एवं गृह विज्ञान संकाय विषय के मूल्यांकनकर्ता नहीं है। इसके कारण मूल्यांकन का कार्य प्रभावित हो रहा है। रिजल्ट समय पर जारी नहीं हो पाएगा। 

मध्यप्रदेश में चुनौतीपूर्ण कार्य अतिथि शिक्षक ही कर पाते हैं

माध्यमिक शिक्षा मंडल के दस्तावेज से स्पष्ट होता है कि शिक्षा विभाग के पास उपरोक्त विषयों के नियमित शिक्षक नहीं है और अतिथि शिक्षकों द्वारा पढ़ाई कराई जाती है। MPBSE ने अनुमति प्रदान की है कि जहां पर मूल्यांकनकर्ता नहीं है वहां पर 3 वर्ष से अधिक अनुभव वाले अतिथि शिक्षकों से मूल्यांकन कार्य कराया जाए। उल्लेख करना अनिवार्य है कि शासन की प्रत्येक व्यवस्था में यदि टाइम लिमिट की चुनौती हो तो ऐसे सभी काम अतिथि शिक्षकों द्वारा ही कराए जाते हैं। कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP karmchari news पर क्लिक करें.