MPPSC SES 2020 RESULT में संशोधन, परीक्षा नियंत्रक ने बिना देखे साइन कर दिए थे

M.P. Public Service Commission, Indore (मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग) द्वारा दिनांक 28 2022 को घोषित किए गए राज्य अभियांत्रिकी सेवा परीक्षा 2020 के परीक्षा परिणाम में संशोधन किया गया है। परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि टाइपिस्ट की गलती से गलत रिजल्ट जारी हो गया था। आश्चर्यजनक है कि परीक्षा नियंत्रक ने बिना जांच किए हस्ताक्षर कर दिए थे। 

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा दिनांक 1 फरवरी 2022 को जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि उपरोक्त परीक्षा का लिखित परीक्षा परिणाम एमपीपीएससी की वेबसाइट पर दिनांक 28 जनवरी 2022 को जारी किया गया था। मध्य प्रदेश स्टेट इंजीनियरिंग सर्विस एग्जाम 2020 में उप पुलिस अधीक्षक (MT) हेतु केवल एक पद विज्ञापित था। घोषित परीक्षा परिणाम में टंकण त्रुटिवश (टाइपिस्ट की गलती) उप पुलिस अधीक्षक के 2 पद घोषित कर दिए गए थे। 

घोषित परीक्षा परिणाम में अनुसूचित जाति के लिए एक और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए एक पद घोषित किया गया था। नवीन विज्ञप्ति के अनुसार उप पुलिस अधीक्षक MT के रिक्त पद की संख्या केवल एक है जो अनारक्षित वर्ग के लिए है। 

GENERAL KNOWLEDGE- घोषित रिजल्ट में गलती के लिए कौन जिम्मेदार होता है

परीक्षा परिणाम एक गंभीर विषय होता है। परीक्षा नियंत्रक की जिम्मेदारी है कि परीक्षा परिणाम घोषित करने से पहले उसे ठीक प्रकार से जांच लें। टंकण की त्रुटि, प्राकृतिक आपदा या हादसा नहीं है जिसे रोका नहीं जा सकता बल्कि इसी प्रकार की छुट्टी को रोकने के लिए परीक्षा नियंत्रक को नियुक्त किया जाता है। यह संशोधित विज्ञप्ति उन छह उम्मीदवारों के लिए किसी वज्रपात से कम नहीं है जिनके नाम शॉर्टलिस्ट किए गए थे। उच्च शिक्षा, सरकारी और प्राइवेट नौकरी एवं करियर से जुड़ी खबरों और अपडेट के लिए कृपया MP Career News पर क्लिक करें