संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण पर सरकार स्थिति स्पष्ट करे: कर्मचारी संघ- MP karmchari news

जबलपुर
। मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया की प्रदेश के शिक्षा, स्वास्थ, राज्य शिक्षा केन्द्र, सहकारिता, पीडब्ल्यूडी, पीएचई, जलसंधासन, जिला पंचायत सहित आदि विभागों से संविदा कल्चर खत्म कर नियमित नियमित नियुक्तियां होने लगी हैं। 

किन्तु लगभग 17 वर्षो से इन विभागों में कार्यरत संविदा कर्मचारी कम्प्यूटर ऑपरेटर प्रोग्रामर, लेखापाल लिपिक, संविदा अधिकारियों को नियमितकरण के नाम पर समिति गठित कर आवश्वासन का झुनझुना पकडा दिया गया है, जिससे संविदा कर्मी अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहे हैं। लगभग 17 वर्षो से शासकीय कार्यालयों में सेवायें देते हुए महत्वूर्ण जिम्मेदारियों का निर्वाहन कर हैं किन्तु उनका वेतन लघु वेतन पाने वाले कर्मचारियों से भी कम है। 

संघ के योगेन्द्र दुबे, अर्वेन्द्र राजपूत, अवधेश तिवारी अटल उपाध्याय, संजय यादव, मुकेश सिंह, मंसूर बेग , विनोद पोद्दार , आशुतोष तिवारी , आलोक अग्निहोत्री , दुर्गेश पाण्डे , नितिन अग्रवाल , गगन चौबे , मनोज सेन , मो ० तारिख , धीरेन्द्र सोनी , नितिन शर्मा , श्यामनारायण तिवारी ,मनीष लोहिया, मनीष शुक्ला, प्रियांशु शुक्ला , संतोष तिवारी आदि ने माननीय मुख्यमंत्री म.प्र . शासन से ई - मेल के माध्यम से पत्र प्रेषित कर मांग की है कि संविदा कल्चर समाप्त करते हुए वर्षों से कार्यरत संविदा कर्मचारियों को नियमित किया जावे। मध्यप्रदेश कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP karmchari news पर क्लिक करें.