MP TET VARG 3 TOPIC- बुद्धि क्या है और बुद्धि के प्रकार

What is Intelligence and Types of Intelligence

एमपी टेट वर्ग 3 का एक बड़ा ही महत्वपूर्ण टॉपिक है "बुद्धि की रचना का आलोचनात्मक स्वरूप और उसका मापन, बहुआयामी बुद्धि" इसी टॉपिक का एक सबटॉपिक है, बुद्धि क्या है और कितने प्रकार की होती है। इसी के बारे में चर्चा करेंगे।

बुद्धि क्या है / What is Intelligence 

Intelligence (इंटेलिजेंस) शब्द लेटिन भाषा के शब्द Intelligentsia (इंटेलीजेंशिया) या intelligenere (इंटेलिजेंटईयर) से बना है। जिसका अर्थ है "To Understand" या समझना।
पहले के समय में इंटेलिजेंट शब्द का प्रयोग सामान्यतः ज्ञान के अर्थ में लिया जाता था, परंतु आज के समय में सिर्फ ज्ञान प्राप्त करना ही बुद्धि नहीं है, बल्कि सीखने की क्षमता, अमूर्त चिंतन की योग्यता, तार्किक सोच और अपने वातावरण के साथ एडजस्ट होना ही इंटेलिजेंस कहलाता है। वंशानुक्रम तथा वातावरण (Heridity and Environment) इन दोनों की l अंतः क्रिया ही बुद्धि को निर्धारित करती है। 

सुजननकी के जनक / Father of Eugenics

सर फ्रांसिस गाल्टन (Sir Fransis Galton) ने 18th सेंचुरी में सबसे पहले इंटेलिजेंस पर काम किया और अपनी बुक "हेरेडिटरी जीनस" में इसके बारे में बताया। इन्हें फादर ऑफ सुजननिकी (यूजिनिक्स, Eugenics) भी कहा जाता है।

बुद्धि परीक्षण के जनक /Father of Intelligence Test

इसके बाद बुद्धि का परीक्षण करने के लिए सबसे पहले अल्फ्रेड बिने (Alfred Binet) ने 1905 में पहला इंटेलिजेंस टेस्ट बनाया। इसी कारण उन्हें फादर ऑफ़ इंटेलिजेंस टेस्ट भी कहा जाता है। 

बुद्धि लब्धि / Intelligence Ouotient Or IQ

इसके बाद विलियम स्टर्न (William Stern) ने 1912 में  सबसे पहली बार बुद्धि लब्धि (Intelligence Quotient) की बात की. इसके बाद Louis Terman ने 1916 में बुद्धि लब्धि का फार्मूला दिया। 

बुद्धि लब्धि का सूत्र / Formula Of intelligence Quotient 

बुद्धि लब्धि मानसिक आयु (Mental Age) तथा तैथिक आयु (Chronological Age) या वास्तविक आयु (Real Age) का एक ऐसा अनुपात है जिसे 100 से गुणा कर प्राप्त किया जाता है। इसलिए इस से अनुपात बुद्धि लब्धि (Ratio iQ)भी कहा जाता है। 
बुद्धि लब्धि= मानसिक आयु /वास्तविक आयु ×100
IQ= Mental Age /Chronological Age ×100
बुद्धि लब्धि की गणना करने की चर्चा हम बाद में में करेंगे। 

बुद्धि के प्रकार / Types of intelligence

अलग-अलग मनोवैज्ञानिकों ने बुद्धि के अलग-अलग प्रकार बताए हैं और बहुआयामी बुद्धि हैं और बहुआयामी बुद्धि की बात भी काफी हद तक स्वीकार की जाती है परंतु मुख्य रूप से बुद्धि तीन प्रकार की होती है।
ई.एल. थार्नडाइक (E.L. Thorndike) के अनुसार बुद्धि तीन प्रकार की होती है। सामाजिक बुद्धि, अमूर्त बुद्धि तथा मूर्त बुद्धि। 

सामाजिक बुद्धि (Social Intelligence)- सामाजिक बुद्धि, एक ऐसी बुद्धि है जो व्यक्ति को सामाजिक परिस्थितियों में समायोजित होने में मदद करती है। जिन लोगों की सामाजिक बुद्धि अच्छी होती है उन्हें अन्य लोगों के साथ प्रभावपूर्ण ढंग से व्यवहार करने की क्षमता, अच्छा आचरण करने की क्षमता एवं समाज के अन्य लोगों से मिलजुल कर सामाजिक कार्य में हाथ बढ़ाने की क्षमता की क्षमता में सामाजिक कार्य में हाथ बढ़ाने की क्षमता की क्षमता में हाथ बढ़ाने की क्षमता की क्षमता अधिक होती है। इस प्रकार की बुद्धि नेताओं, वक्ताओं, मीडिया पर्सनस्  आदि में पाई जाती है। 

अमूर्त बुद्धि (Abstract intelligence) -

ऐसी चीजों के बारे में चिंतन करना जो आपके सामने नहीं हो उसे ही अमूर्त बुद्धि कहा जाता है। ऐसी बुद्धि में व्यक्ति शब्द ,प्रतीक तथा अन्य मूर्त चीजों के सहारे अच्छे से चिंतन कर लेता है। सामान्यतः जिन व्यक्तियों में अमूर्त बुद्धि अधिक होती है वे सफल कलाकार, पेंटर, गणितज्ञ, कहानीकार ,दार्शनिक आदि होते हैं। 

मूर्त बुद्धि (Concrete intelligence) -

मूर्त बुद्धि से तात्पर्य ऐसी मानसिक क्षमता से है जिसके सहारे व्यक्ति ऐसी चीजें, जो उसके सामने हैं उनके महत्व को समझता है। उनके बारे में सोचता है, अपनी इच्छा अनुसार और आवश्यकता अनुसार उनमें परिवर्तन परिवर्तन उनमें परिवर्तन परिवर्तन लाकर उन्हें उपयोगी बना लेता है। इसे व्यावहारिक बुद्धि  या प्रैक्टिकल इंटेलिजेंस भी कहा जाता है। इस प्रकार की बुद्धि इंजीनियरर्स,डॉक्टर्स, इंडस्ट्रियलिस्ट आदि में पाई जाती है।
मध्य प्रदेश प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के इंपोर्टेंट नोट्स के लिए कृपया mp tet varg 3 notes in hindi पर क्लिक करें.