MP NEWS- हनी ट्रैप का शिकार हुए ASI ने जहर खाया, 10 दिन बाद मौत

भोपाल
। भोपाल हमीदिया रोड पर स्थित LBS अस्पताल में राजगढ़ के असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर राजेंद्र मालवीय की मृत्यु हो गई। शरीर में जहरीले पदार्थ के कारण उनकी तबीयत खराब हुई थी। पुलिस ने उनकी महिला मित्र के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि एएसआई मालवीय को उन्हीं के गांव की एक लड़की ने हनी ट्रैप कर लिया था। 

असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर राजेंद्र मालवीय राजगढ़ जिले में नरसिंहगढ़ के रहने वाले हैं। उनके पिता बारेलाल मालवीय मध्य प्रदेश के सबसे लोकप्रिय बैंड संचालकों में से एक हैं। नरसिंहगढ़ का बारेलाल बैंड पूरे प्रदेश में लोकप्रिय है। एएसआई राजेंद्र मालवीय को भी गाने का शौक था। 12 जनवरी को दोपहर साढ़े 3 बजे करनवास के होटल में खाना खाने के दौरान उनकी तबीयत बिगड़ गई थी। 

होटल के मालिक ने पुलिस को सूचना दी थी। बताया था कि राजेंद्र मालवीय ने जहर खा लिया है। बेहतर इलाज के लिए राजेंद्र को भोपाल लाया गया था। लगातार 10 दिन तक इलाज चला परंतु डॉक्टर उन्हें बचा नहीं पाए। घटना के तत्काल बाद पुलिस ने गीता नाम की एक महिला के खिलाफ आईपीसी की धारा 384 के तहत मामला दर्ज किया है। एसआई की मृत्यु के बाद आत्महत्या के लिए उत्प्रेरण का मामला भी दर्ज किया जाएगा। 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि गीता ने बड़ी ही चतुराई के साथ राजेंद्र मालवीय को हनी ट्रैप का शिकार बना लिया था। राजेंद्र मालवीय विवाहित हैं एवं उनके 3 बच्चे हैं। बड़ी बेटी किस वर्ष की है और सबसे छोटा बेटा 10 वर्ष का है। कहा जा रहा है कि गीता की ब्लैकमेलिंग से तंग आकर राजेंद्र मालवीय ने आत्महत्या कर ली है। भोपाल की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया bhopal news पर क्लिक करें.