मध्य प्रदेश में सभी कर्मचारियों को बूस्टर डोज की मांग- MP karmchari news

जबलपुर
। मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि कोविड–19 संक्रमण को देखते हुए एवं संक्रमण के नये वेरीएंट ओमिक्रोन से बचाव के लिए जिले के शिक्षा विभाग, पीडब्ल्यूडी, कृषि, पीएचई, निगम मंडलों, बैंक आदि समस्त विभागों में कर्मचारियों को कोविड–19 टीके की बूस्टर डोज लगाई जाये।

क्योंकि लोक सेवक प्रतिदिन शासकीय कार्य कर रहे हैं व जनता से सीधा संपर्क होता है और उन्हें फील्ड में भी जाकर कार्य करना पडता है। लोक सेवकों में बढ़ते संक्रमण के कारण भयव्याप्त है क्योंकि वे अपने कर्तव्यों का निर्वहन ईमानदारी से कर रहे हैं और जनता से सीधा जुडाव होने के कारण संक्रमण का खतरा अत्यधिक मंडरा रहा है। लोक सेवक शासन एवं जनसमुदाय के हितार्थ हेतु प्रतिदिन संमर्पण भाव से कार्य कर रहे हैं ऐसे में लोक सेवक एवं उसके परिवार को बढते संक्रमण से बचाव हेतु कोविड -19 का बूस्टर डोज देना अति आवश्यक हो गया। 

संघ के अर्वेन्द्र राजपूत , अटल उपाध्याय , आलोक अग्निहोत्री , मुकेश सिंह , मंसूर बेग , ब्रजेश मिश्रा , दुर्गेश पाण्डेय , आशुतोष तिवारी , सुरेन्द्र जैन मुन्नालाल पटेल , मनोज सिंह , वीरेन्द्र चंदेल , एस पी बाथरे , परशुराम तिवारी , तुषरेन्द्र सिंह सेंगर , नीरज कौरव , निशांक तिवारी , शैलेन्द्र दुबे , संदीप चौबे , दिलराज झारिया , जवाहर लोधी , सतीश देशमुख , रमेश काम्बले , श्याम नारायण तिवारी , नितिन शर्मा , संतोष तिवारी , प्रियांशु शुक्ला , मो तारिक , धीरेन्द्र सोनी आदि ने कलेक्टर जबलपुर मांग की है कि समस्त लोक सेवकों को कोविड -19 बूस्टर डोज प्राथमिकता से लगाया जाये , जिससे लोक सेवक एवं उनका परिवार कोरोना के बढ़ते संक्रमण से बच सकें।
मध्यप्रदेश कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP karmchari news पर क्लिक करें.