JU GWALIOR NEWS- बिना मार्कशीट व टेबुलेशन चार्ट 143 रिजल्ट घोषित

ग्वालियर।
जीवाजी विश्वविद्यालय में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है। बिना मार्कशीट एवं टेबुलेशन चार्ट के 143 परीक्षाओं के रिजल्ट घोषित कर दिए गए। स्टूडेंट्स के पास केवल ऑनलाइन रिजल्ट की प्रिंट कॉपी है। इतना ही नहीं 2019 से लेकर अब तक किसी भी सप्लीमेंट्री परीक्षा का रिजल्ट घोषित ही नहीं किया गया। स्वास्थ्य शाखा की 18 परीक्षाओं के रिजल्ट रुके हुए हैं। 

कुल मिलाकर जीवाजी यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट के मामले में 100% फेल हो गई है। कॉलेजों द्वारा फीस तो ली जा रही है परंतु स्टूडेंट्स को मार्कशीट नहीं दी जा रही। यदि कोई रिजल्ट को चैलेंज करना चाहता है तू नहीं कर सकता क्योंकि यूनिवर्सिटी में टेबुलेशन चार्ट ही नहीं है। सन 2019 से लेकर अब तक किसी भी सप्लीमेंट्री परीक्षा का रिजल्ट घोषित नहीं किया जाना, अपने आप में एक बड़ा अपराध है। स्वास्थ्य शाखा की 18 परीक्षाओं के रिजल्ट क्यों रुके हैं किसी के पास जवाब नहीं है। 

नवनियुक्त परीक्षा नियंत्रक प्रो. डीएन गोस्वामी़ का कहना है कि उनकी नियुक्ति से पहले सारी गड़बड़ी हुई है। भविष्य में ऐसी कोई गलती नहीं होगी। सबसे बड़ा सवाल यह है कि जिसने गड़बड़ी की है उसके खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई। दूसरा महत्वपूर्ण मुद्दा यह है कि हो चुकी गलतियों को सुधारने के लिए क्या किया जा रहा है। स्टूडेंट्स को उनकी ओरिजिनल मार्कशीट कब तक मिलेगी। 

जीवाजी विश्वविद्यालय- इन परीक्षाओं के रिजल्ट ही घोषित नहीं किए

- सत्र अक्टूबर 2019: बीए, बीकाम, बीएससी, तृतीय वर्ष पूरक परीक्षा।
- सत्र मार्च-2019: एमए समाजकार्य पूर्वार्द्घ पूरक परीक्षा।
- सत्र मार्च 2020: एमबीए जनरल पूर्वार्द्घ पूरक परीक्षा।
- सत्र मार्च 2020: एमबीए जनरल उत्तरारार्द्घ।
- सत्र मार्च 2020: एमए उत्तरारार्द्घ (समाज कार्य)।
- सत्र मार्च 2020: बीएससी तृतीय वर्ष (द्वितीय अवसर)।
- मेडिकल शाखा के 18 रिजल्ट लंबित हैं। ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें