GWALIOR NEWS- पुलिस जिसे गर्लफ्रेंड समझ रही थी, ब्लैकमेलर निकली

ग्वालियर।
मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर में 30 वर्षीय युवक अरुण बाकना की आत्महत्या के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस जिस लड़की को अरुण की गर्लफ्रेंड समझ रही थी, वह तो ब्लैकमेलर निकली। इन्वेस्टिगेशन के दौरान पुलिस के हाथ इस बात के पुख्ता सबूत लगे हैं कि लड़की की ब्लैकमेलिंग से तंग आकर अरुण ने आत्महत्या कर ली थी। अब पुलिस गर्लफ्रेंड की तलाश कर रही है। 

घटना जुलाई 2021 की है। ग्वालियर शहर के सिंधिया नगर में स्थित सरकारी मल्टी में रहने वाले 30 वर्षीय अरुण पुत्र चिम्मन लाल बाकना ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया था। इन्वेस्टिगेशन के दौरान पता चला कि अरुण ने आत्मघाती कदम उठाने से पहले एक लड़की से फोन पर बात की थी। पूछताछ में पता चला कि जिस लड़की से बात की थी वह अरुण की गर्लफ्रेंड है।

लेकिन जब पुलिस ने अरुण के मोबाइल की छानबीन की तो उसके अंदर ऐसे कई साक्ष्य मिले जिससे स्पष्ट हो गया कि लड़की, अरुण की गर्लफ्रेंड नहीं थी बल्कि उसने अरुण को अपने जाल में फंसा लिया था और ब्लैकमेल कर रही थी। लड़की, अरुण के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कराने और पूरे परिवार को जेल भेजने की धमकी दे रही थी। अरुण ने लड़की को रिप्लाई किया था कि वह जान दे देगा लेकिन लड़की तब भी नहीं मानी थी। ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें.