CM Sir, कर्मचारियों के साथ MPPSC-PEB कैंडीडेट्स को भी लिफ्ट करा दो- Khula Khat

महोदय
, हम सभी बेरोजगार पीड़ित प्रार्थी MPPSC / PEB भर्ती परीक्षाओं के अभ्यर्थी है। हम सभी परीक्षार्थी पिछले 2 वर्षों से MPPSC/PEB प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे है। महोदय, हम आपको अवगत कराना चाहेंगे कि MPPSC की पहली परीक्षा कोरोना वायरस की वजह से 2 बार कैंसिल होकर 25 जुलाई को आयोजित हुई जबकि दूसरी भर्ती परीक्षा जिसका विज्ञापन जून 2021 में आना था एवं परीक्षा अगस्त 2021 में आयोजित होनी थी, वह आयोग के द्वारा सही समय पर जारी नहीं किया गया। वह विज्ञापन दिनांक 22 दिसम्बर 2021 को जारी किया गया एवं उसमें आयु सीमा 01 जनवरी 2021 की जगह 01 जनवरी 2022 कर दी गई। जिसकी वजह से हम सभी बेरोजगार अभ्यर्थी जो पिछले 2 वर्षों से तैयारी कर रहे थे, परीक्षा में आवेदन करने से बाहर हो गए।

महोदय, हम सभी अभ्यर्थियों द्वारा GAD में पिछले 2-3 माह मे 3–4 बार इस हेतु आवेदन दिया गया तथा विभिन्न स्तरों पर शासन के कई मंत्रीगणों को भी ज्ञापन दिया गया, परंतु शासन स्तर पर हमारे आवेदन पर निर्णय नहीं किया गया जबकि पिछले 2 दिन पहले 18 जनवरी 2022 को पहले से ही शासकीय सेवा में कार्यरत कर्मचारियों को प्रमोशन हेतु MPPSC / PEB भर्ती परीक्षाओं में आयु सीमा में 55 वर्ष तक कि छूट दी गई एवं इंटरव्यू स्तरपर 5 अतिरिक्त नंबरों का प्रावधान किया गया।

महोदय, शासन हम 40 वर्ष की आयु सीमा के अभ्यर्थियों को आयु सीमा में 2 वर्ष की छूट नहीं दे रहा है, उलटे पहले से ही रोजगार प्राप्त शासकीय सेवा में कार्यरत कर्मचारियों को MPPSC/PEB भर्ती परीक्षाओं में आवेदन करने के लिए 55 वर्ष तक की छूट दे रहा है महोदय हमें शासन के इस निर्णय पर आपत्ति नहीं है। हमारा बस यह निवेदन है कि हम सभी 40 वर्ष की आयु सीमा वाले अभ्यर्थियों को भी MPPSC/PEB भर्ती परीक्षाओं में आवेदन करने केलिए आयु सीमा में 2 वर्ष की छूट दी जाए।

महोदय हम सभी अभ्यर्थी अपने आवेदन के पक्ष में कुछ तथ्य आपके समक्ष रखना चाहेंगे:-
1). महोदय पिछले 1 वर्ष कि सभी भर्ती परीक्षाओं मे समस्त राज्यों उत्तराखंड, हरियाणा, राजस्थान, झारखंड, ऑडिशा मे अभ्यर्थीयों कि आयु सीमा मे 2 वर्ष कि अतिरिक्त छूट दी गई एवं आयुसीमा बढ़ाकर 42 वर्ष कर दी गई जबकि मध्य प्रदेश मे सरकार के द्वारा कोई छूट नहीं दी गई।
2). महोदय मध्यप्रदेश शासन में शासकीय कर्मचारी की रिटायरमेंट की उम्र 62 वर्ष है जबकि सीधी भर्ती से सिलेक्ट होने अभ्यर्थियों को 42 वर्ष कि उम्र तक भी परीक्षा देने के लिए पात्र नहीं माना जा रहा है।
(3). महोदय काँग्रेस पार्टी द्वारा विधानसभा चुनाव 2018 के चुनावी घोषणा पत्र मे प्रदेश के समस्त अभ्यर्थियों से वादा किया गया था कि मध्य प्रदेश मे काँग्रेस कि सरकार बनने पर MPPSC और PEB कि भर्ती परीक्षों मे आयुसीमा मे 2 वर्ष कि बढ़ोतरी करते हुए 40 से बड़ाकर 42 वर्ष कि जाएगी। 

महोदय, मध्यप्रदेश सरकार के द्वारा MPPSC/PEB भर्ती परीक्षाओं में आवेदन करने में हम 40 वर्ष कि आयुसीमा के अभ्यर्थियों को आयुसीमा मे 2 वर्ष कि छूट ना देने से हम सभी का पिछले 2 वर्ष का कीमती समय, पैसा, पढ़ाई सब व्यर्थ जा रहा है जबकि हम सरकार से ना तो कोई आर्थिक मदत, बेरोजगारी भत्ता, शासकीय पद हेतु अनिवार्य मेडिकल फिट्नस नियमों मे छूट, नहीं मांग रहे है। हम सभी केवल भर्ती परीक्षा मे आवेदन करने हेतु कोरोना महामारी कि वजह से आयु सीमा मे 2 वर्ष कि छूट मांग रहे है। प्रार्थी, MPPSC द्वारा बेवजह ओवर एज कर दिए गए सभी अभ्यर्थी

इससे पूर्व प्रकाशित हुए खुले खत पढ़ने के लिए कृपया Khula Khat पर क्लिक करें. खुला खत एक ओपन प्लेटफार्म है। यहां मध्य प्रदेश के सभी जागरूक नागरिक सरकारी नीतियों की समीक्षा करते हैं। सुझाव देते हैं एवं समस्याओं की जानकारी देते हैं। यदि आपके पास भी है कुछ ऐसा जो मध्य प्रदेश के हित में हो, तो कृपया लिख भेजिए हमारा ई-पता है:- editorbhopalsamachar@gmail.com