MP BOARD और शिक्षा विभाग- वार्षिक परीक्षा के मूड में नहीं, अधिकारियों को कोरोना का इंतजार

भोपाल
। Madhya Pradesh Board of Secondary Education और स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारी इस साल परीक्षा कक्ष में ऑफलाइन वार्षिक परीक्षा आयोजित करने के मूड में नजर नहीं आ रहे। उनकी सारी तैयारियां कोरोनावायरस की तीसरी लहर को लेकर की जा रही है। कक्षा 9 से कक्षा 12 तक के लिए आंतरिक मूल्यांकन की व्यवस्था की जा रही है। कक्षा 5 और कक्षा 8 की बोर्ड परीक्षाएं भी इस बार टालने की प्लानिंग है। 

अधिकारियों ने कक्षा 12 की अर्द्धवार्षिक परीक्षाओं के बीच में सर्कुलर जारी करके खलबली मचा दी थी। अधिकारियों की दलील है कि यदि कोरोनावायरस की तीसरी लहर आई तो उसके लिए पहले से तैयारी कर रहे हैं लेकिन अधिकारियों की इन तैयारियों के कारण कई दूसरे इंपैक्ट भी पड़ रहे हैं। स्टूडेंट्स का माइंड सेट चेंज हो रहा है। स्टूडेंट्स का कहना है कि जब तक कंडीशन क्लियर नहीं हो जाती तब तक पढ़ाई करने का कोई फायदा नहीं है। टीचर्स भी कंफ्यूज है, इसलिए स्टूडेंट्स को कन्वेंस नहीं कर पा रहे हैं। 

ताजा खबर आई है कि कक्षा 5 और कक्षा 8 की इस साल बोर्ड पैटर्न पर परीक्षा होनी थी परंतु अधिकारी इसे अगले साल कराने के मूड में है। उनका मानना है कि कोरोनावायरस संक्रमण के कारण पढ़ाई नहीं हो पाई है। परीक्षा की तैयारियां भी नहीं हो पाई। इसलिए वर्तमान शिक्षा सत्र में पुरानी पद्धति से सभी विद्यार्थियों को अनिवार्य रूप से पास कर दिया जाएगा। अगले साल बोर्ड पैटर्न लागू करेंगे। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here