JABALPUR RTO का बदला- 90 ऑटो रिक्शा जप्त, एक ऑटो वाले ने वीडियो वायरल कर दिया था

जबलपुर
। मध्य प्रदेश शासन के परिवहन मंत्री के कथित खास ARTO संतोष पाल (प्रभारी आरटीओ) का पिछले दिनों एक वीडियो वायरल हो गया था। इससे नाराज क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय द्वारा 90 ऑटो रिक्शा जप्त कर लिए गए। दावा किया गया है कि इनमें से 43 बिना परमिट के चल रहे हैं। आश्चर्यजनक बात यह है कि यह सारी कार्रवाई वीडियो वायरल होने के बाद हो रही है।

फोटो वालों के लिए नियम कायदे बनाए हैं, कार्रवाई जारी रहेगी: RTO संतोष पाल 

आरटीओ संतोष पाल ने बताया कि शहर में सवारी आटो के संचालन के लिए नियम कायदे बनाए गए हैं। तमाम आटो चालक नियमों के विरुद्ध आटो चला रहे हैं। ऐसे आटो भी चलाए जा रहे हैं जिनके लिए परिवहन विभाग द्वारा परमिट जारी नहीं किया गया है। हाई कोर्ट के निर्देश पर नियम विरुद्ध तरीके से संचालित आटो के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि कार्रवाई जारी रहेगी। 

प्रभारी आरटीओ संतोष पाल के वीडियो में क्या था 

प्रभारी आरटीओ संतोष पाल के वीडियो में वह एक व्यक्ति से बात करते हुए दिखाई दे रहे थे। बताया गया कि वह व्यक्ति एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर था। श्री संतोष पाल उससे कह रहे थे कि जिस तरह पुलिस बाजार से चाकू खरीदकर रख देती है वैसे ही तेरे ऑटो रिक्शा में 100 ग्राम गांजा रखकर तुझे जेल भिजवा दूंगा। समाचार लिखे जाने तक इस मामले में कमिश्नर परिवहन विभाग द्वारा किसी भी प्रकार की कार्यवाही का समाचार प्राप्त नहीं हुआ है। 

ऑटो चालक संघ ने एसपी को ज्ञापन सौंपा

आटो चालक संघ ने पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा को ज्ञापन सौंपकर आरटीओ के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। संघ के अभिषेक पाठक, अमर देव यादव, भरत बर्मन, दीपक जैन, पंचम बर्मन, रमेश यादव, आकाश सिंह, किशोर चौधरी, नितिन चौधरी, सोमनाथ कुमार, विक्की केवट, नब्बू जैन, राजेश उपाध्याय, प्रकाश सोनी, नवीन झारिया, विकास दाहिया, पवन कुमार, सोनू बोरकर, मोहम्मद शोएब मंसूरी, मुन्ना तिवारी, आतिश, हरिओम विश्वकर्मा, तेजी लाल चक्रवर्ती, बबलू रैकवार, जमील मंसूरी, धर्मो लाल, आयुष बर्मन ने आरोप लगाया कि आरटीओ द्वारा आटो चालकों को परेशान किया जा रहा है। जांच के नाम पर जबरन वसूली की जाती है। उनके पास आटो संचालन के लिए जरूरी दस्तावेज मौजूद हैं फिर भी उन्हें निशाना बनाया जाता है। पुलिस अधीक्षक ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।जबलपुर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया jabalpur news पर क्लिक करें.


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here