कृपया MPPSC की टैगलाइन हटा दीजिए, देखकर दर्द होता है- Khula Khat

भोपाल
। MP Public Service Commission (MPPSC) Indore द्वारा आयोजित होने वाली राज्य सेवा परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं एक उम्मीदवार ने सचिव, मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग के नाम खुला खत लिख कर कहा है कि कृपया एमपीपीएससी की ऑफिशल वेबसाइट पर प्रदर्शित हो रही टैगलाइन 'सपने होते साकार यहाँ  मिलता है फल मेहनत का' रिमूव कर दीजिए। इसे पढ़कर दर्द होता है। 

यह लिखा है उसी मेल में जो सचिव एमपीपीएससी को भेजा गया
Dear and honorable secretary, I hope this email finds you well. As an aspirant of civil services, I humbly and respectfully request you to take down (remove) the tagline  "सपने होते साकार यहाँ  मिलता है फल मेहनत का" from mppsc website homepage (mppsc.nic.in) because it hurts aspirants like us each and every time we visit your site. In reality neither our dreams get fulfilled nor we get results for our hard work and patience.
I'd be very grateful to you if you consider this request and don't play with the emotions and sentiments of lakhs of aspirants already facing high depression in the state.
Please leave a response if this mail reaches you.

Thank you
Yours truly Nikhil Garg <gargnikhil789@gmail.com>
"An unemployed youth from Madhya Pradesh" 

उल्लेखनीय है कि उम्मीदवार लंबे समय से राज्यसेवा परीक्षा के रुके हुए दो रिजल्ट और तीसरी परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं। आरक्षण विवाद के नाम पर राज्य सेवा परीक्षा को रोक दिया गया है। पिछले ढाई साल से ना तो कोर्ट का डिसीजन आया है और ना ही शासन की तरफ से कोई बीच का रास्ता निकाला गया है। मध्य प्रदेश हायर एजुकेशन और नौकरी रोजगार से जुड़े अपडेट के लिए कृपया MP career news पर क्लिक करें.


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here