GWALIOR NEWS- दो पुलिस आरक्षक सस्पेंड, 3 महीने बाद भी अवैध वसूली जारी

ग्वालियर
। विक्की फैक्ट्री चेकिंग प्वाइंट से गुजरने वाले वाहनों से खुलेआम अवैध वसूली की जाती है। यह वसूली कोई अपराध ही नहीं बल्कि पुलिस वालों द्वारा की जाती है। 3 महीने पहले एडिशनल एसपी हितिका वासल ने 2 आरक्षकों को पकड़ा था और शुक्रवार की रात जब चेक किया तो फिर से वसूली होते हुए मिली। इस बार भी 2 पुलिस आरक्षक सस्पेंड किए गए हैं। 

एसपी अमित सांघी ने एडिशनल एसपी हितिका वासल एवं सीएसपी डॉ ऋषिकेश मीणा (दोनों आईपीएस) को रात के समय पॉइंट चेक करने के लिए भेजा था। जवाई नदी का पानी चेक करने के बाद सीएसपी मीणा विक्की फैक्ट्री की तरफ आए। इस प्वाइंट से करीब 50 मीटर पहले सीएसपी ने अपने ड्राइवर से गाड़ी की लाइट बंद करवा दी और अंधेरे में खड़े होकर पॉइंट पर खड़े पुलिसकर्मियों की गतिविधियां देखी। 

सीएसपी डॉ ऋषिकेश ने देखा कि चौराहे पर खड़े आरक्षक लोडिंग वाहनों को रोकते हैं। ड्राइवर के पास जाते हैं और फिर वापस आ जाते हैं। यह देखकर डॉक्टर ऋषिकेश पैदल-पैदल पॉइंट तक पहुंच गए। उन्हें देखते ही दोनों आरक्षक हड़बड़ा गए और माफी मांगने लगे। इसी रिपोर्ट के आधार पर आरक्षक सुमिक कुमार व सूरज करोनिया को सस्पेंड कर दिया गया। हमारे सूत्रों का कहना है कि विक्की फैक्ट्री पर वसूली थाने के आदेश पर की जाती है। आरक्षक को सस्पेंड करने से वसूली नहीं रुकती। ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें.


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here