मध्यप्रदेश में जमीन के डायवर्सन हेतु ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, यहां पढ़िए - MP NEWS

मध्य प्रदेश भू-राजस्य संहिता (भू-राजस्व का निर्धारण तथा पुनर्निर्धारण नियम 2018) अंतर्गत डायवर्सन (व्यपवर्तन) के संबंध में प्राप्त निर्देशानुसार सूचित किया गया है की डायवर्सन (व्यपवर्तन) हेतु ऑफलाइन प्रक्रिया में संशोधन करते हुए ऑनलाइन प्रक्रिया लागू की गई है। 

जिसके अंतर्गत डायवर्सन (व्यपवर्तन) की सूचना हेतु आवेदन शासन की वेबसाइट https://mpbhulekh-gov-in/ के माध्यम से ऑनलाइन जमा कर सकते है तथा निर्धारित शुल्क का भुगतान भी वेब साइट के माध्यम से ऑनलाइन बैंकिंग के साधनों का उपयोग कर जमा किया जा सकता है। पोर्टल पर उपलब्ध ’’डायवर्सन ऑनलाइन प्रक्रिया’’ मैन्युअल में दर्शित प्रक्रिया का पालन करना होगा। उक्त प्रक्रिया हेतु किसी भी अधिकारी/कर्मचारी/अथवा अन्य किसी भी अनाधिकृत व्यक्ति को ऑफलाइन आवेदन देने की आवश्यकता नहीं है। नियमानुसार डायवर्सन से आशय भू-राजस्व के पुनर्निर्धारण से है। 

व्यवहारिक रूप से प्रत्येक भूमि भूखंड का भू-राजस्व उसके उपयोग के अनुसार निर्धारित है जब किसी भूमि/खण्ड के उपयोग में परिवर्तन किया जाता है तो इसका आशय व्यपवर्तन या डायवर्सन होता है, जैसे कृषि से आवासीय, आवासीय से व्यावसायिक तथा कृषि से व्यावसायिक आदि। पोर्टल पर लॉगिन करने के पश्चात, डैशबोर्ड पर ’दर सूची/रेट स्पेज उपलब्ध है। उपयोगकर्ता ’दर सूची’ पर क्लिक कर दरों को देख सकते है एवं पोर्टल पर डायवर्सन हेतु आवश्यक जानकारी की प्रविष्ट करने पर सिस्टम अनुसार गणना कर देय राशि की जानकारी मिल जाती है। 

ऑनलाइन आवेदन जमा करने हेतु सर्व प्रथम https://mpbhulekh-gov-in पर "Register as a public user"के विकल्प के माध्यम से पंजीयन करना होगा जिसके पश्चात आपको यूजर आइ.डी. एवं पासवर्ड उपलब्ध होगा जिसका उपयोग कर लॉगिन करने के पश्चात व्यपवर्तन सूचना विकल्प का चयन कर आवेदन दर्ज किया जा सकता है। 

उपरोक्तानुसार पूर्व में किए गए डायवर्सन (व्यपवर्तन) हेतु पटवारी लॉगिन के माध्यम से उन्हे अभिलेख में दर्ज किए जाने का प्रावधान किया गया है। अतः पूर्व में किए गए पुराने डायवर्सन (व्यपवर्तन) हेतु पुनः आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। पूर्व में किए गए डायवर्सन के शुल्क भुगतान भी ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा किया जा सकता है, उक्त कार्य हेतु तहसील कार्यालय में जाकर रसीद कटवाने की आवश्यकता नहीं है।

व्यपवर्तन से सम्बंधित समस्यायों के निराकरण के लिये टोल फ्री नंबर 1800 233 6763 पर संपर्क किया सकता है तथा https://mpbhulekh-gov-in/ पोर्टल पर ग्रीवेंस सेक्शन में शिकायत भी दर्ज की जा सकती है।

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiसमुद्र से 125 मीटर नीचे एक देश, जहां नालों में ज्वालामुखी का लावा बहता है
GK in Hindi- 3 प्रकार के विवाह, जिसमें लड़की को पत्नी का कानूनी अधिकार नहीं मिलता है 
GK in Hindiभारत के ऐसे राज्य जहां दोपहर में ऑफिस खुलते, रात में बंद होते हैं
GK in Hindiएक जानवर जो दर्द में इंसानों की तरह कराहता है
GK in Hindiएक ऐसा देश जहां 73 दिनों तक सूर्यास्त नहीं होता
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here