GWALIOR NEWS- कलेक्ट्रेट के क्लर्क को गोली लगी, रहस्यमय मौत

ग्वालियर
। कलेक्टर कार्यालय की निर्वाचन शाखा में पदस्थ लिपिक 58 वर्षीय रविदत्त दुबे की गोली लगने से मौत हो गई। सबसे अजीब बात यह है कि रवि दत्त दुबे पूरे परिवार (कुल 5 सदस्य) के साथ कमरे में सो रहे थे। तभी अचानक गोली चली और उनकी मौत हो गई। गोली किसने चलाई, कुछ पता नहीं चल पाया है। अजीब बात यह है कि कमरे में कोई हथियार भी नहीं मिला है। एक्सपर्ट का कहना है कि गोली काफी नजदीक से चलाई गई है। इसलिए पुलिस इसे आत्महत्या का मामला मान रही है।

घटना का विवरण
थाटीपुर के तृप्ति नगर निवासी 58 वर्षीय रविदत्त दुबे पुत्र ओमप्रकाश दुबे कलेक्टोरेट के निर्वाचन शाखा में बतौर क्लर्क पदस्थ हैं। खाना खाकर अपने परिवार के साथ सोए थे। कमरे में उनकी पत्नी भारती, बड़ी बेटी कृतिका दुबे, छोटी बेटी 17 वर्षीय सलोनी, बेटा 12 वर्षीय रूपेन्द्र सो रहे थे। रात करीब दो बजे अचानक कमरे में धमाके की आवाज आई और जब सभी जागे तो बिस्तर पर रवि के पेट व मुंह से खून निकल रहा था। जब उनको चेक किया तो वह दम तोड़ चुके थे। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। 

घर के अंदर रहने वाला पालतू कुत्ता छत पर मिला

मृतक के परिजन ने बताया है कि उन्हें नहीं पता कैसे गोली लगी है। रात को उनका डॉग घर में घूमता रहता है। पर घटना के बाद देखा तो व छत पर था। हो सकता है वह छत पर किसी आवाज के बाद गया हो और हवा से दरवाजा बंद हो गया हो। कमरे में से कोई हथियार नहीं मिला है लेकिन पुलिस इस मामले को आत्महत्या मानकर चल रही है। 

पुलिस का कहना है: हत्या नहीं हो सकती, गोली कमरे के अंदर से चली है

पुलिस को घटना स्थल से कोई हथियार व चली हुई गोली नहीं मिली है। पुलिस का कहना है कि रूम भी ऐसा नहीं है कि सड़क चलता कोई गोली मार दे। इसके अलावा कमरे में कोई खिड़की नहीं है। घर के मुख्य दरवाजा भी बंद था। कमरे में 5 लोग सो रहे थे और किसी ने भी गोली चलाने वाले को नहीं देखा। परिजन ने किसी पर हत्या की आशंका भी नहीं जताई है। एक्सपर्ट ने भी पुलिस को इशारा किया है कि जिस तरह से गोली लगी है वह काफी करीब से लगी है। जैसे खुद मारी हो। पर सवाल यह उठता है कि यदि यह आत्महत्या है तो हथियार कहां चला गया। पुलिस को संदेह है कि परिवार में से किसी ने उसे छुपाया है। अब पुलिस छुपाने का कारण पता नहीं कर पा रही है।

05 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

GWALIOR NEWS- अंचल में 400 साल पुराने पुल खड़े हैं, 4 साल पुराने पुल कैसे बह गए
MP NEWS- कर्मचारियों के तबादले की लास्ट डेट फिर बढ़ाई जाएगी
MP NEWS- गृह मंत्री मिश्रा ने बाढ़ में फंसे 9 लोगों को बचाने जान जोखिम में डाल दी
मध्य प्रदेश मानसून- ग्वालियर में मूसलाधार, 6 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी
JABALPUR NEWS- पटरी पर आने वाली है मेमू ट्रेन, कटनी-सतना और इटारसी पहुंचाएगी
MP NEWS- श्योपुर का मध्य प्रदेश से कनेक्शन कट, कूनो का पुल टूटा
MP NEWS- ट्रांसफर मांगने वाले 1800 असिस्टेंट प्रोफेसर्स को मंत्रीजी की ना
MP NEWS- शर्ट उतारकर अमर्यादित प्रदर्शन, 44 पंचायत कर्मचारियों के खिलाफ FIR
EMPLOYEE NEWS- मप्र में अभी भी संविदा कर्मचारियों को 90% वेतन नहीं दिया जा रहा: कर्मचारी संघ
INDORE NEWS- प्राइवेट स्कूल संचालक और पेरेंट्स दोनों तैयार नहीं, ऑनलाइन क्लास चलेंगी
GWALIOR-CHAMBAL में मूसलाधार बारिश क्यों हो रही है, पढ़िए बादलों का विज्ञान 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiशराब में आग क्यों लगती है, पानी में क्यों नहीं लगती, सरल हिंदी में समझिए 
GK in Hindiअंधेरा होने पर भी मच्छरों को हमारी लोकेशन कैसे मिल जाती है 
GK in Hindiरत्ती भर शर्म में, रत्ती से क्या तात्पर्य होता है, पढ़िए मजेदार जानकारी
GK in Hindi- वह कौन सी संख्या है जिसे रोमन में नहीं लिखा जा सकता
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here