Loading...    
   


सूर्य की कर्क संक्रांति आपकी राशि को कितना प्रभावित करेगी, यहां पढ़िए - RASHIFAL

भगवान सूर्यनारायण का दिनांक 16 जुलाई 2021 को राशि परिवर्तन होगा। बुध ग्रह की राशि मिथुन से अपने मित्र चंद्रमा की राशि कर्क में प्रवेश करेंगे। इसे कर्क की संक्रांति कहा जाता है। इस राशि परिवर्तन के साथ सूर्य देव उत्तरायण से दक्षिणायन हो जाते हैं। मौसम में परिवर्तन होता है और हवाओं में ठंडक आने लगती है। सूर्य ग्रह का यह राशि परिवर्तन पृथ्वी पर सभी 12 राशियों के मनुष्यों को प्रभावित करता है। 

सूर्य ग्रह के मित्र ग्रहों के नाम, उच्च एवं नीच की स्थिति

ज्योर्तिविद् विजय तिवारी के मुताबिक 16 जुलाई को शाम चार बजकर 25 मिनट पर चंद्रमा कर्क राशि में प्रवेश करेगा। इस राशि में सूर्य 17 अगस्त तक रहेंगे। यहां से निकलकर सूर्य अपनी राशि सिंह में प्रवेश करेंगे। सूर्य देव को ग्रहों का राजा माना गया है। सूर्य देव किसी भी राशि में 1 महीने तक रहते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सूर्य ग्रहण मेष राशि में उच्च और तुला राशि में नीच के होते हैं। चंद्रमा, मंगल एवं देव गुरु बृहस्पति भगवान सूर्यनारायण के मित्र ग्रह बताए गए हैं।

सूर्य देव के उत्तरायण और दक्षिणायन से क्या तात्पर्य है

ज्योर्तिविद् देवेंद्र कुशवाह ने बताया कि सूर्यदेव का मिथुन राशि से कर्क राशि में प्रवेश करना कर्क संक्रांति कहलाती है। इसके बाद मकर सक्रांति पर सूर्य पुन: उत्तरायण होंगे। सूर्य की यह दो स्थित छह-छह माह रहती है। इसे उत्तरायण और दक्षिणायन कहते हैं। दक्षिणायन को देवताओं की रात्रि कहा जाता है। इस दौरान मांगलिक कार्य नहीं होते हैं। इसके अतिरिक्त उत्तरायण को देवताओं का दिन कहा जाता है जिसमें मांगलिक कार्य होते हैं।

जुलाई के महीने में शुक्र और मंगल भी राशि परिवर्तन करेंगे 

सूर्य के बाद शुक्र और मंगल भी राशि परिवर्तन करेंगे। 17 जुलाई को शुक्र ग्रह भी राशि परिवर्तन कर सिंह राशि में सुबह नौ बजकर 13 मिनट पर आएंगे। शुक्र सिंह में 11 अग्रस्त तक रहेगा। मंगल ग्रह का 20 जुलाई को राशि परिवर्तन सिंह में होगा। मंगल सिंह राशि में छह सितंबर तक रहेगा।

सूर्य के कर्क में गोचर का राशिफल

मेष : कुछ मामलों में अपयश प्राप्त हो सकता है। अपने छवि के प्रति सतर्क रहे।
वृषभ : जिम्मेदारी से किए कार्यों में सफलता मिलेगी।
मिथुन : इस दौरान निवेश में सफलता प्राप्त होगी। धन लाभ के योग बनेंगे।
कर्क : मान- सम्मान और प्रतिष्ठा बढ़ेगी लेकिन शारीरिक पीड़ा भी संभव है।
कन्या : जमीन जायदाद संबंधी कार्य बनेंगे। पारिवारिक विवाद से बचने का प्रयास करें।
तुला : लाभ के अच्छे अवसर उपलब्ध होंगे। नौकरी में तरक्की के योग बनेंगे।
वृश्चिक : आध्यात्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी। साहस में वृद्धि होगी।
धनु : मान-सम्मान व समाजिक पद प्रतिष्ठा की वृद्धि होगी।
मकर : सांझा व्यापार में मुश्किल हो सकती है लेकिन व्यापारियों के लिए समय अनुकूल है।
सिंह : बोलने में संयम रखे और इस दौरान सूर्य उपासना लाभदायक है।
कुंभ : सूर्य का राशि परिवर्तन हर क्षेत्र में सफलता प्रदान करने के योग बनाएगा।
मीन : जितनी मेहनत करेंगे उतना ही फल प्राप्त होगा। वाद-विवाद से बचकर अपना कार्य करना चाहिए।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here