OMG! कर्ज में डूबे बैंक के मैनेजर ने दूसरे बैंक में डाका डाला, महिला अधिकारी की हत्या

मुंबई
। न भूतो न भविष्यति, यह वाक्य शायद इसी तरह की घटनाओं के लिए बना है। कर्ज में डूब गए एक बैंक के मैनेजर ने अपने ही इलाके के दूसरे बैंक में डकैती डाल दी। वारदात के दौरान एक अधिकारी की हत्या कर दी।

महाराष्ट्र में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां किसी क्राइम थ्रिलर फिल्म की तरह कर्ज में डूबे एक्सिस बैंक के एक शाखा प्रबंधक ने कथित तौर पर आईसीआईसीआई बैंक पर डकैती डालने की असफल कोशिश की और वहां एक उप शाखा प्रमुख की चाकू मारकर हत्या कर दी। 

घटनास्थल पर भारी भीड़ लगी हुई है। पुलिस पब्लिक को कंट्रोल कर रही है। प्रारंभिक छानबीन शुरू हो चुकी है। बताया गया है कि यह घटना मुंबई के विरार में हुई है। डाका डालने वाले एक्सिस बैंक के ब्रांच मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया गया है। चाकू से हमले के कारण एक महिला अधिकारी की मृत्यु हो चुकी है जबकि दूसरी महिला कर्मचारी अस्पताल में भर्ती है।

30 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

SCHOOL CORONA NEWS- सोलापुर में 600 से ज्यादा स्टूडेंट्स पॉजिटिव, 12 जुलाई से स्कूल खुले थे
MP CORONA NEWS- इंदौर में 7 पॉजिटिव मिले, सीएम ने चेतावनी जारी की
MP उपचुनाव NEWS- पिता ने बेटे का टिकट काट दिया
BU BHOPAL NEWS- हे भगवान, ओपन बुक एग्जाम में भी विक्रम-बेताल की कहानी लिख दी, MBA वाले एक कदम आगे निकले
BANK NEWS- संडे को भी काम करेगा, सैलरी आएगी, किस्त कटेगी
MPPSC 2020- दूसरे पेपर में 17 प्रश्न गलत, विलोपित करने की मांग
मध्य प्रदेश मानसून- 7 जिलों में मूसलाधार, 9 में भारी वर्षा की चेतावनी - MP NEWS
EMPLOYEE NEWS- एरियर्स और डीए पर कोई समझौता नहीं करेंगे: कर्मचारी संघ
DAVV ADMISSION NEWS- आवेदन की लास्ट डेट बढ़ाई जा सकती है
MP NEWS- कमलनाथ, अरुण यादव को लोकसभा का टिकट देना नहीं चाहते
JABALPUR NEWS- विवेक तन्खा ने एक आग्रह किया था ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 8 फ्लाइट दे दीं

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindi- वह कौन सी संख्या है जिसे रोमन में नहीं लिखा जा सकता
GK in Hindiजालसाज व्यक्ति को 420 क्यों कहते हैं ​
GK in Hindiकागज के ग्लास में पानी गर्म करें तो पहले कागज जलेगा या पानी
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
GK in Hindi- हिटलर की मूछें टूथब्रश जैसी क्यों थी, योद्धाओं जैसी क्यों नहीं, पढ़िए
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here