पैरों में झाइयां क्यों होती है - Why do we have Heat spot on our feet

पैरों या शरीर के किसी भी हिस्से पर झाइयां या काले धब्बे होना एक सामान्य सी बात है। इंग्लिश में इन्हें Heat Spot या Frackle कहा जाता है। आइए आज अपन इनका कारण जानने की कोशिश करते हैं।

सरल हिंदी में समझिए
पैरों में जूते, चप्पल, पायल या फिर लंबे समय तक एक ही मुद्रा में पैर का इस्तेमाल करने के कारण (एक ही मुद्रा में खड़े रहने या बैठे रहने के कारण) पैरों में झाइयां हो जाती हैं। यह कोई गंभीर रोग नहीं है बल्कि शरीर की एक प्रक्रिया है जो यह बताती है कि शरीर के हिस्से के साथ अन्याय हो रहा है। उसे दवाइयां नहीं बल्कि अतिरिक्त देखभाल की जरूरत है। थोड़े प्यार की जरूरत है। विश्वास नहीं होता तो विस्तार से पढ़िए, साइंस की किताबों में क्या लिखा है:-

मेलानिन क्या है और कहां पाया जाता है  /  what is Melanin and where does it found 

हमारे शरीर में रंग का निर्धारण का काम एक विशेष प्रकार की कोशिकाएं जिन्हें मेलानोसाइट ( Melenocyte) कहा जाता है, के द्वारा किया जाता है। ये कोशिकाएं एक विशेष प्रकार के वर्णक या पिगमेंट का निर्माण करती हैं, जिसे Melanin कहा जाता है। यही melanin हमारी स्किन, बालों, आंखों आदि के colour के लिए जिम्मेदार होता है। 

यूमेलानिन क्या है / What is Eumelanin

मेलानिन को यूमेलानिन (Eumelanin) भी कहा जाता है। चूँकि मनुष्य सबसे विकसित प्राणी है और Eu (यू) का अर्थ है, सु या विकसित या advance, इसी कारण मनुष्य में पाए जाने वाले मेलानिन को यूमेलानिन कहा जाता है।
जैसे - Eugenics (सुजननिकी), Euthenics (सुपारिस्थितिकी), Eukaryotic (विकसित केंद्रक) आदि। मनुष्य के advancement को दर्शाते हैं।

पैरों में झाइयों का कारण / Reason for Freckle in Our Feet

•जब किसी एक विशेष स्थान पर मेलानोसाइट कोशिकाएं इकट्ठा होकर होकर मेलानिन का अधिक मात्रा में secretion करने लगती हैं, जिसके कारण काले धब्बे या झाइयां पड़ जाती हैं।
• कई बार Sun के अधिक समय तक exposure के कारण भी किसी विशेष स्थान पर Black spots या heat spots बन जाते हैं।
• कई बार किसी मैकेनिकल कारण जैसे- गाड़ी चलाना, किसी विशेष प्रकार के जूते ,चप्पल, सैंडल आदि के कारण भी black spots हो जाते हैं।
• खिलाड़ियों में किसी विशेष खेल के कारण भी निशान या धब्बे पड़ जाते हैं।
• महिलाओं में पैरों में पहने जाने वाले आभूषणों के कारण भी कई बार ये black spots बन जाते हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here