SAF जवान ने मंगेतर के भाई की हत्या की, मां को गोली मारी, मई में फेरे होने थे - BHOPAL NEWS

भोपाल।
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के शाहपुरा थाना क्षेत्र में सगाई तोड़ने पर SAF के जवान ने लड़की के घर में घुसकर उसके भाई और मां को गोली मार दी। इससे भाई की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं मां गंभीर रूप से घायल हो गई। बाप-बेटी ने जैसे-तैसे उसकी राइफल छुड़ाई और आरोपी जवान को किचन में कैद करके अपनी जान बचाई।  

लड़की का आरोप है कि जवान सिरफिरा साइको टाइप हरकतें करता था। कभी भी धमकाना और रिश्तेदारों को फोन करने से परेशान थी, इसलिए शादी नहीं करना चाहती थी। इन दोनों के मई में फेरे होने वाले थे। डीआईजी ने आरोपी जवान अजीत चौहान एवं गार्ड कमांडर चंद्रभूषण पाराशर को निलंबित कर दिया है। पीड़िता ने बताया मेरी SAF के जवान अजीत चौहान से 21 अक्टूबर 2020 को सगाई हुई थी। कुछ दिन बाद वह परेशान करने लगा। साइको टाइप की हरकतें करता था। कभी-कभी धमकाता भी था। बाद में मेरे दोस्त, रिश्तेदारों को फोन करके परेशान करने लगा। 

मई 2021 में शादी होने वाली थी लेकिन मैंने मना कर दिया। बीती रात करीब 11.30 बजे बाद अजीत मेरे घर में घुसा और सीधे मेरे रूम में आया। उसके पास राइफल थी। वह कहने लगा कि मुझसे शादी करोगी या नहीं। मैंने उससे कहा कि तुम वापस जाओ, अपने परिवार को लेकर आना तब बात करेंगे। इस पर वह गुस्साने लगा और शादी नहीं करने पर जान से मारने की धमकी देने लगा। मां जानकी और भाई रितेश बीच-बचाव करने लगे। इस पर आरोपी अजीत ने मेरे भाई रितेश को गोली मार दी। इसके बाद मां पर भी फायर किया। मैंने और पापा ने मिलकर उससे राइफल छुड़ाई वर्ना वह हम सबको मार देता। राइफल छुड़ाने के बाद हमने उसे किचन में बंद कर दिया। 

जैसे-तैसे जान बचाकर भाई और मां को अस्पताल ले गए। भाई को नहीं बचाया जा सका। मां की स्थिति अभी स्थिर है। समय पर एम्बुलेंस नहीं मिल पाई तो जैसे-तैसे अस्पताल पहुंचे। मां को निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया है।चश्मदीदों ने बताया कि आरोपी को जब किचन में बंद किया तो वह जोर-जोर से चीखने लगा। उसने अंदर ही अपनी पुलिस की वर्दी भी जला डाली। इसके बाद पुलिस भी मौके पर आ गई।

जवान के साथ कमांडर भी निलंबित 

डीआईजी ने सरकारी राइफल से हत्या करने का मामला सामने आने के बाद आरोपी जवान और लापरवाही पर कमांडर चंद्रभूषण पाराशर को निलंबित कर दिया।