Loading...    
   


MCA स्टूडेंट ने फांसी लगाई, बिहार से इंदौर पढ़ने आया था, सुसाइड नोट मिला - INDORE NEWS

इंदौर।
मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक्जाम में मार्क्स पर इंदौर में MCA (मास्टर ऑफ कम्प्यूटर एप्लिकेशन) के छात्र ने जान दे दी। बुधवार को उसने अपने रूम में फांसी लगा ली। उसके पास से सुसाइड नोट मिला है, जिसमें लिखा है कि 'एक्जाम में नंबर कम रहे हैं। पता है कि मैं गलत कर रहा हूं, लेकिन हर चीज में अगर नाकामी मिले, तो जीने का क्या मतलब। आप सब अच्छे से रहिएगा।   

मामला खजराना थाना क्षेत्र के पीपल चौक के पास का है। बिहार का रहने वाला अभिषेक चार महीने पहले पढ़ाई करने इंदौर आया था। यहां वह एमसीए कर रहा था। वह यहां कमरा किराए से लेकर रहता था। सुबह रूम मेट कमरे में गया। देखा तो अंदर से दरवाजा बंद था। आवाज देने के बाद भी जवाब नहीं मिला, तो उसने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने गेट तोड़कर देखा, तो अभिषेक फंदे पर लटका था। पुलिस ने शव को उतारकर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया। जांच में घटनास्थल पर सुसाइड नोट भी मिला है।

पुलिस के मुताबिक प्राथमिक जांच में पता चला है कि अभिषेक के मन में पढ़ाई को लेकर डर सता रहा था। उसे हमेशा अच्छे नंबर नहीं आने का डर रहता था। इस कारण वह तनाव में था। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सुसाइड नोट में यह लिखा 

'मेरे नंबर अच्छे नहीं आ रहे हैं, हम किसी काम के नहीं हैं ... हम नहीं कर सकेंगे ... किसी के लिए कुछ भी तंग आ चुके हैं... अपने आप से किसी में कोई कमी नहीं है। सच यह है कि हम सक्षम नहीं हैं। मेरी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है.... पता है, हम जो कर रहे हैं गलत है, पर जीने का क्या मतलब... जब सब चीज में नाकाम ही हो रहे हैं। हो सके तो सभी लोग हमें माफ कर देना, क्योंकि हम किसी के उम्मीद पर खरे नहीं उतर सके और अच्छे से रहिएगा सभी लोग।

31 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here