Loading...    
   


JU GWALIOR के कर्मचारी इंटरनेट पर गंदी फिल्में देखते हैं, NKN ने 8 ID पकड़ीं - LATEST NEWS

ग्वालियर
। ग्वालियर चंबल क्षेत्र में उच्च शिक्षा के सबसे बड़े संस्थान जीवाजी यूनिवर्सिटी में हड़कंप की स्थिति है। मामला काफी गंभीर है क्योंकि नेशनल नॉलेज नेटवर्क ने यूनिवर्सिटी की 8 कंप्यूटर आईडी पर इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी है। ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि इन कंप्यूटरों पर गंदी फिल्में देखी जा रही थी। प्रतिबंधित वेबसाइट को नियमित रूप से ओपन किया जा रहा था। यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट ने कार्रवाई शुरू कर दी है परंतु अभी तक कर्मचारियों के नाम नहीं बताए हैं।

जीवाजी यूनिवर्सिटी अकादमी, मैनेजमेंट और एनवायरमेंट साइंस के कंप्यूटर पर चलती थी गंदी फिल्में

मामला जीवाजी यूनिवर्सिटी की अकादमी शाखा, यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट शाखा और इनवायरमेंट साइंस विभाग का है। फिलहाल 8 यूजर आईडी से एक सप्ताह में 1256 मिनट (करीब 21 घंटे) का रिकाॅर्ड मिला है। इसका औसत निकालें तो पता चलता है कि इन 8 आईडी से कर्मचारियों ने प्रतिबंधित वेबसाइट्स पर रोज औसतन 22 मिनट गंदी फिल्में या अश्लील सामग्री देखी है। यह भी संभावना है कि एक आईडी पर कर्मचारियों का समूह ऐसी अश्लील सामग्री देखता हो। 

जीवाजी यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट को कुछ पता ही नहीं, NKN ने बताया

इस बारे में नेशनल नॉलेज नेटवर्क (NKN) ने JU प्रशासन काे सूचना दी है। उक्त सभी यूजर आईडी ब्लॉक कर दी गई हैं। अब जीवाजी यूनिवर्सिटी के अफसरों की चिंता बढ़ी हुई है। मामले के बारे में तत्काल इंटरनेट प्रभारी प्रो. डीसी गुप्ता को अफसरों ने अवगत कराया है। प्रो. गुप्ता का कहना था कि नेशनल नॉलेज नेटवर्क में सिक्योरिटी फायर वॉल लगी है, जिससे यह पता चलता है कि किस आईडी से प्रतिबंधित वेबसाइट को देखा गया है। 

इस तरह की शुरुआत जांच में 8 कर्मचारियों की आईडी सामने आई है। संबंधित शाखा के प्रभारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। हालांकि इन कर्मचारियों के नाम अब तक उजागर नहीं किए हैं। जेयू के अफसर इस मामले को दबाने में जुटे हुए हैं।

नेशनल नॉलेज नेटवर्क द्वारा अकादमी शाखा के कुछ कर्मचारियों द्वारा गलत वेबसाइट देखने के मामले में अवगत कराया गया है। शाखा प्रभारियों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।' - प्रो. डीसी गुप्ता, इंटरनेट प्रभारी, जेयू


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here