Loading...    
   


GWALIOR में रिटायर्ड SP से 33.35 लाख ठगी, हत्या की धमकी दी - MP NEWS

ग्वालियर।
मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर में रिटायर्ड SP EOW को उनके ही दो पार्टनर रेत खदान में साझेदारी का सपना दिखाकर 33.35 लाख रुपए ठग लिया। अब जब रिटायर्ड SP EOW कारोबारियों के यहां रुपए मांगने पहुंचे तो आरोपियों का कहना है कि अब वापस यहां मत आ जाना नहीं तो मरवाकर फिंकवा दूंगा।  

घटना की शिकायत रिटायर्ड SP ने थाटीपुर थाना में की थी। जांच के बाद पुलिस ने उनको ठगने वाले दोनों कारोबारियों पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। घटना शहर के बलवंत नगर थाटीपुर में वर्ष 2017 से 2021 के बीच की है। शहर के थाटीपुर स्थित E-77 बलवंत नगर निवासी 69 वर्षीय ओम प्रकाश मित्तल EOW से रिटायर्ड SP हैं। 9 साल पहले वह ग्वालियर से ही रिटायर्ड हुए हैं। उन्होंने पुलिस को की गई शिकायत में बताया है कि वह छतरपुर जुड़ीपुर निवासी राजकुमार पटेल पुत्र रामअवतार पटेल से पहले से परिचित हैं। 

राजकुमार उनके बेटे पीयूष मित्तल के साथ फर्म राज कंस्ट्रक्शन में साझेदार हैं। उसमें ओपी मित्तल भी साझेदार हैं। वर्ष 2017 में राजकुमार अपने बड़े भाई सुरेन्द्र पटेल के साथ आया। उसने बताया कि एक बड़ी रेत खदान का ठेका उन्हें मिल रहा है। वह उन्हें उसमें साझेदार बना सकते हैं। ऐसे में ओपी मित्तल भी तैयार हो गए। बदले में तय हुआ कि रिटायर्ड SP EOW उन्हें 33.35 लाख रुपए अभी दे दें। शेष रकम वह खुद लगाएंगे। उनका कंपनी में हिस्सा होगा और हर महीना लाखों की इनकम होगी।

दोनों कारोबारियों ने रिटायर्ड SP EOW को हर महीने दो लाख रुपए देने का वादा किया। ओपी मित्तल ने अपने विभिन्न बैंक खातों से RTGS और NEFT के जरिए 33.35 लाख रुपए राजकुमार और सुरेन्द्र के खाते में जमा करा दिए। पर इसके बाद न तो रकम वापस मिली न ही हर महीने दो लाख रुपए लाभ मिला। पहले बात करने पर दोनों कारोबारी कहते रहे कि रेत खदान ठेके का काम अभी लटक गया है। इसके बाद आज कल की कहकर टालते रहे।

जब रुपए लिए 3 साल से ज्यादा समय हो गया तो आरोपी कारोबारियों ने फोन रिसीव करना ही बंद कर दिया। इस पर रिटायर्ड SP EOW उनके घर पहुंचे। यहां राजकुमार और सुरेन्द्र ने कहा कि कौन से पैसे। तुमसे हमने कोई रुपए नहीं लिए हैं। अब वापस यहां आया तो तुझे मार कर कहीं फिकवा देंगे। इसके बाद रिटायर्ड SP ने मामले की शिकायत पुलिस में की। पुलिस ने दोनों आरोपियों पर धोखाधड़ी की FIR दर्ज कर ली है। पुलिस अफसरों का कहना है कि जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here