Loading...    
   


RANJEET AUTOMOBILE BHOPAL तीन अधिकारियों के खिलाफ FIR, नई बताकर पुरानी कार बेच दी

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में स्थित रंजीत ऑटोमोबाइल के 3 अधिकारियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। आरोप है कि कार खरीदने आए ग्राहक को 13.53 लाख रुपए मूल्य वाला नया मॉडल दिखाया, पैसे भी लिए लेकिन डिलीवरी 11.60 लाख रुपए वाली कार की कर दी। यानी नया मॉडल दिखाकर पुराना मॉडल थमा दिया।

इनवाइस से पकड़ी गई धोखाधड़ी

पीड़ित राजेश रंजन ने बताया कि उन्होंने रंजित ऑटो प्राइवेट से अक्टूबर 2016 में XLDO मॉडल की NISSAN TERRANO CAR बुक की थी। इसके लिए उनसे 13 लाख 53 हजार रुपए ले लिए गए। उनको XL मॉडल की कार की डिलीवरी दी गई। राजेश रंजन को दूसरे मॉडल की कार देने का शक हुआ तो उन्होंने इनवाइस की मांग की। इसके बाद उनको एक ही नंबर के तीन अलग-अलग इनवाइस दिए गए। तीनों ही इनवाइस में उनके द्वारा किए गए भुगतान का अमाउंट का मिलान नहीं हुआ। यही नहीं तीनों ही इनवाइस हस्ताक्षर भी अलग-अलग लोगों के थे।

आरटीओ में भी अलग इनवाइस

डीलर की तरफ से RTO में गाड़ी का जमा कराया गया इनवाइस अलग निकला। उस इनवाइस से पता चला कि उनको दी गई गाड़ी फरवरी 2016 में खरीदी गई थी। इस मामले में मिसरोद पुलिस ने रंजित ऑटो मोबाइल पर काम करने वाले तीन कर्मचारियों धनजीत, विशाल सक्सेना और भूपेन्द्र श्रीवास्तव के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।

04 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here