Loading...    
   


MP COLLEGE EXAM का कार्यक्रम जारी, थोड़ी राहत लेकिन परीक्षाएं ऑफलाइन होगी

भोपाल
। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा वर्ष 2020-21 की विश्वविद्यालयीन परीक्षाओं का कार्यक्रम जारी कर दिया है। कोरोना काल के कारण गत वर्ष परीक्षा को लेकर जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार इस वर्ष भी स्नातकोत्तर (पीजी) प्रथम, तृतीय सेमेस्टर के नियमित व प्राइवेट विद्यार्थी को घर से ही परीक्षाओं के लिए प्रायोगिक कार्य, आंतरिक मूल्यांकन और असाइनमेंट जमा करने की सुविधा दी जाएगी। 

MP COLLEGE EXAM की महत्वपूर्ण तारीखें

पीजी प्रथम सेमेस्टर के विद्यार्थियों का आंतरिक मूल्यांकन व असाइनमेंट जमा 13 फरवरी तक कर सकते हैं। साथ ही प्रायोगिक सेसनल कार्य 15 से 26 फरवरी तक कर सकते हैं। वहीं पीजी तृतीय सेमेस्टर के विद्यार्थियों का आंतरिक मूल्यांकन व असाइनमेंट जमा 15 फरवरी से 26 फरवरी तक करेंगे। साथ ही तृतीय सेमेस्टर की प्रोयोगिक सेसनल कार्य 13 फरवरी तक जमा कर सकते हैं। स्नातक (यूजी) प्रथम, द्वितीय व तृतीय वर्ष की परीक्षाएं अप्रैल-मई में आयोजित की जाएंगी। वहीं पीजी के द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा 16 जून से 31 जून और चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा 1 जून से 15 जून तक होंगे। यूजी का परीक्षा परिणाम 30 जून व पीजी का परीक्षा परिणाम 31 जुलाई तक जारी किए जाएंगे। वर्ष 2020-21 के लिए यूजी प्रथम, द्वितीय, तृतीय और पीजी द्वितीय व चतुर्थ सेमेस्टर के विद्यार्थी कॉलेज में उपस्थित होकर पेन व पेपर पर परीक्षाएं देंगे। इन परीक्षाओं में कोरोना संक्रमण को लेकर जारी गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। इसके लिए परीक्षा केंद्रों की संख्या बढ़ाई जाएगी। जरूरत पड़ने पर प्राइवेट कॉलेजों व स्कूलों को भी परीक्षा केंद्र बनाया जा सकता है।

पीजी प्रथम व तृतीय सेमेस्टर के विद्यार्थियों का आंतरिक मूल्यांकन होगा

विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देश के अनुसार पीजी प्रथम व तृतीय सेमेस्टर के नियमित विद्यार्थियों के लिए अलग-अलग निर्देश जारी किए गए हैं। इसमें प्रथम सेमेस्टर के विद्यार्थियों के लिए प्रथम वर्ष के आंतरिक मूल्यांकन के प्राप्तांकों को आधार अंक मानते हुए 100 प्रतिशत मूल्यांकन किया जाएगा। वहीं तृतीय सेमेस्टर के नियमित विद्यार्थियों के लिए पिछले सेमेस्टर के विषयवार एवं प्रश्नपत्रवार प्राप्तांकों के 50 प्रतिशत और वर्तमान वर्ष के आंतरिक मूल्यांकन का 50 प्रतिशत जोड़कर वर्तमान सत्र का रिजल्ट जारी किया जाएगा। पीजी के प्रथम व तृतीय वर्ष के सेमेस्टर के प्राइवेट विद्यार्थियों का भी नियमित विद्यार्थियों की तरह आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर असाइनमेंट प्राप्तकर मूल्यांकन करने के बाद रिजल्ट जारी किया जाएगा।

प्राइवेट विद्यार्थी के लिए ऐसे बनेंगे अंक

पीजी प्रथम व तृतीय सेमेस्टर के प्राइवेट विद्यार्थियों के लिए अग्रेषण केंद्र के संबंधित विषय के शिक्षक द्वारा असाइनमेंट के लिए प्रश्नपत्र तैयार कर कॉलेजों के पोर्टल पर अपलोड करेंगे। इसके साथ ही विद्यार्थी को स्मार्ट फोन या ईमेल पर प्रश्न पत्र भेजे जाएंगे। इसके लिए विद्यार्थियों से पंजीकृत मोबाइल नंबर व ईमेल मांगा गया है। विद्यार्थी अपने कॉलेजों में असाइनमेंट निर्धारित समय सारणी के अनुसार जमा करेंगे। इसके बाद अग्रेषण केंद्रों के प्राचार्य विषयों के शिक्षकों से मूल्यांकन कराकर विवि में भेजेंगे। विवि द्वारा असाइनमेंट के 50 प्रतिशत व गत वर्ष के प्राप्तांकों के 50 प्रतिशत अंकों को मिलाकर रिजल्ट जारी किया जाएगा।



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here