Loading...    
   


साहब अभिषेक ने बेटी को पीटा, उसने सुसाइड कर लिया, पुलिस ने FIR नहीं की: आरोप - GWALIOR NEWS

ग्वालियर। 
मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में छात्रा के खुदकुशी के मामले में बुधवार शाम उस समय सनसनी फैल गई जब छात्रा की मां ने एक लड़के की मानसिक प्रताड़ना से तंग आकर बेटी के यह कदम उठाने का आरोप लगाया।   
 
छात्रा को कई दिन से एक लड़का परेशान कर रहा था। इसकी शिकायत मुरार थाना में भी की गई। छात्रा ने खुदकुशी जैसा आत्मघाती कदम उठाने से पहले मां को फोन कर उस लड़के का फोन आने की बात भी कही थी। छात्रा की मां का आरोप है कि अब पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है। 11 फरवरी की शाम 17 वर्षीय रचना पुत्री बबलू यादव निवासी मुरार घासमंडी ने फांसी लगाकर जान दे दी थी। जिस समय यह घटना हुई रचना के मां-पिता व भाई सागर गए थे। 

घटना का पता उस समय लगा जब मकान मालिक की पत्नी उसे खाना देने गई थी। घटना से पहले छात्रा ने किसी को वीडियो कॉलिंग की थी। इस मामले में पुलिस मर्ग कायम कर जांच कर रही है। बुधवार शाम को इस मामले में मृतक छात्रा की मां घासमंडी मुरार निवासी ममता यादव ने डीडी नगर में रहने वाले अभिषेक नरवरिया पर उसकी बेटी को मानसिक रूप से प्रताड़ित कर खुदकुशी जैसा कदम उठाने पर विवश करने का आरोप लगाया है। ममता का आरोप है कि यह अभिषेक उसकी बेटी को परेशान करता था। बेटी ने कई बार बताया जिसकी शिकायत मुरार थाने में की गई लेकिन पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया।    

विगत 11 फरवरी को बेटी को अभिषेक ने बुलाकर गाली गलौज की और उसे पीटा। उसे खुदकुशी करने के लिए मजबूर किया। उसने फोन करके यह बात मुझे भी बताई। पर मैं शहर से बाहर थी इसलिए मैंने उससे कहा कि वह मुरार थाना में फोन करके बताएं। उसने फोन लगाया भी, लेकिन लाइन व्यस्त होने के कारण बात नही हो सकी। मैंने वापस बेटी को फोन किया तो उसने उठाया नहीं। मकान मालकिन खाना देने गई तो देखा कि बेटी ने फांसी लगा ली है। मैंने पुलिस को फोन करके बताया। जब तक हम घर पहुंचे पुलिस लाश को फांसी के फंदे से उतार चुकी थी। हमने अभिषेक के बारे में पुलिस को बताया लेकिन आज तक FIR नहीं की गई है।

25 फरवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here