Loading...    
   


दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर कमलनाथ को गलत बताया - MP NEWS

जबलपुर
। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस नेता श्री दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर नेता प्रतिपक्ष एवं प्रदेश अध्यक्ष श्री कमलनाथ को गलत बताया है। इस बार मामला कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग का है। मध्य प्रदेश में सबसे पहले कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग की शुरुआत की थी। दिग्विजय सिंह ने इसे गलत बताते हुए कहा कि छिंदवाड़ा में भी कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग सफल नहीं हुई। 

कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग छिंदवाड़ा में भी सफल नहीं हुई: दिग्विजय सिंह

कांट्रेक्ट फार्मिंग छिंदवाड़ा में कमल नाथ ने शुरू की थी, इसके बाद भी कांग्रेस कांट्रेक्ट फार्मिंग का विरोध क्यों कर रही है? इस सवाल का जवाब देते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि ईस्ट इंडिया कंपनी भी कांट्रेक्ट फार्मिंग लेकर आई थी। उसका परिणाम सबको मालूम है। केंद्र सरकार भी उसी राह पर चल रही है। कांट्रेक्ट दो बराबर पक्ष के बीच होता है। यहां एक तरफ किसान है दूसरी तरफ मल्टीनेशनल कंपनी हैं। मल्टीनेशनल कंपनी जो ड्राफ्ट बनाएंगी उस पर किसानों को दस्तखत करना पड़ेगा। यह बराबरी वाली बात नहीं है। छिंदवाड़ा में कांट्रेक्ट फार्मिंग सफल नहीं हुई है।

शिवराज सिंह गैर कानूनी बात करते हैं, मुख्यमंत्री रहने का अधिकार नहीं: दिग्विजय सिंह

जबलपुर में पत्रकारों से बात करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि भारत के संविधान में कहां यह लिखा है कि मुख्यमंत्री किसी को जमीन में जिंदा गाड़ सकता है। शिवराज सिंह चौहान गैर कानूनी बात करते हैं। उन्हें मुख्यमंत्री रहने का अधिकार नहीं है। वे चुन-चुनकर कांग्रेसियों और गरीबों के खिलाफ कार्रवाई कर परेशान कर रहे हैं। भाजपा से जुड़े लोग शासकीय भूमि पर आवासीय कालोनी बना रहे हैं उन पर कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही है। 

पहले भी कमलनाथ को गलत बता चुके हैं दिग्विजय सिंह 

मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में दिग्विजय सिंह का नाम आने के बाद उन्होंने इसके खिलाफ आयोजित पत्रकार वार्ता में बताया था कि जब कमलनाथ मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने शिवराज सिंह चौहान के कहने पर एक अधिकारी की नियम विरुद्ध नियुक्ति की थी। इस बयान के बाद मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में दिग्विजय सिंह का नाम दोबारा नहीं लिया गया।

24 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here