Loading...    
   


कमलनाथ ने नगरीय निकाय चुनाव पूरी ताकत से लड़ने का ऐलान किया - MP NEWS

भोपाल
। आज की राजनीति व समय परिवर्तित हो चुका है, जिसने परिवर्तन को अपना लिया वही सफल। अब वह समय गया कि जब एक व्यक्ति हजारों मतदाताओं को किसी एक के पक्ष में करने की गारंटी ले लिया करता था। आज तो वह समय है जिसमें एक व्यक्ति अपने घर के व घर के आसपास के वोटों की भी गारंटी नहीं ले सकता है। नगरीय निकाय चुनाव को छोटा चुनाव ना समझें, इसे हल्के में ना लें, इसे बेहद गंभीरता से लें। यह चुनाव विधानसभा चुनाव का आधार है, इस चुनाव से आप जनता से अपने संबंधों को और मजबूत व प्रगाढ़ बना सकते हैं।’ उक्त संबोधन प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज अपने निवास पर संपन्न कांग्रेस पार्टी द्वारा नियुक्त प्रदेश के नगर पालिका निगम के प्रभारियों- सहप्रभारियों की बैठक के दौरान व्यक्त किया। 

इस अवसर पर श्रीनाथ ने उपस्थित नगरीय निकाय चुनाव के प्रभारियों-सहप्रभारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों में निष्पक्ष तरीके से योग्य उम्मीदवारों का चयन करें और योग्य उम्मीदवारों के नाम प्रदेश कांग्रेस कमेटी को तय समय सीमा में सौपें। कांग्रेस की पैठ वार्ड स्तर व पंचायत स्तर तक है, बस आवश्यकता है अपनी बात को मतदाताओं तक सही ढंग से पहुंचाने की। आप जैसा बोयेंगे वैसी फसल काटेंगे। महिलाओं के टिकट को लेकर उन्होंने कहा कि इन चुनावों में उन्हीं महिलाओं को टिकट में प्राथमिकता मिलेगी जो समाज में, राजनीति में मैदानी स्तर पर सक्रिय होगीं। घरेलू व राजनीति से दूर रहने वाली नेताओं की पत्नियों को टिकट नहीं दिए जाएंगे। वार्ड के परिणाम यदि अच्छे होंगे तो महापौर व अध्यक्षों के परिणाम भी अच्छे मिलेंगे। 

इसलिये हमें वार्ड स्तर तक पार्टी की जीत के लिये कार्य करना है। उम्मीद करता हूं कि आप अच्छे परिणाम लेकर लौटेंगे। आपकी पार्टी के प्रति निष्ठा, समर्पण है, इसलिये आप आज यहां सब काम छोड़कर आये हैं, क्योंकि आपका पार्टी की संस्कृति में विश्वास है। 
इस अवसर पर श्री नाथ ने दिल्ली की सीमा पर पिछले 40 दिन से चल रहे किसान आंदोलन व तीन नए किसान विरोधी कानूनों के बारे में अवगत कराते हुए कहा कि 20 जनवरी को किसानों के समर्थन में व काले कानूनों के विरोध में भोपाल में बड़ा किसान सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। उन्होंने प्रभारियों से कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर नये मतदाताओं को जोड़ने एवं मतदाता सूची पुनरीक्षण के काम में भी प्राथमिकता से जुट जाएं। 

श्री नाथ ने कहा कि हमें ईव्हीएम में गड़बड़ी को लेकर निरंतर शिकायतें मिल रहीं हैं, ईव्हीएम का हम विरोध करते हुए इसको लेकर लड़ाई लड़ेंगे। आज की बैठक में बड़ी संख्या में महिलाएं प्रभारी-सह प्रभारी के रूप में उपस्थित थीं। बैठक में वक्ताओं के रूप में महिलाओं को ही आज बोलने का अवसर दिया गया। 

बैठक के पूर्व दिल्ली की सीमा पर पिछले 40 दिनों से चल रहे किसान आंदोलन में शहीद हुए 60 किसानों व मप्र के डबरा जिले के चिनोर तहसील के शहीद किसान सुरेन्द्र सिंह सिद्दू को 2 मिनिट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई। 

बैठक में प्रदेश कांगे्रस के पूर्व अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया, पूर्व मंत्री सज्जनसिंह वर्मा, जीतू पटवारी, कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, सुरेन्द्र चैधरी, उपाध्यक्ष प्रकाश जैन, मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सिंह सलूजा, मांडवी चैहान, सेवादल अध्यक्ष ठाकुर रजनीश सिंह, किसान कांगे्रस के अध्यक्ष दिनेश गुर्जर आदि उपस्थित थे। 
बैठक का संचालन प्रदेश कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर ने किया तथा महामंत्री राजीव सिंह ने आभार माना।  

05 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here