Loading...    
   


JABALPUR में मेडिकल बोर्ड सप्ताह में 6 दिन बैठना चाहिए: कर्मचारी संघ - MP NEWS

जबलपुर
। मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि जिला चिकित्सालय मे मेडिकल बोर्ड प्रमाण पत्र सिर्फ मंगलवार और शुक्रवार को ही बनाए जाते हैं जिससे समस्त मेडिकल बोर्ड प्रमाण पत्र चाहने वालों को अत्यंत परेशान होना पड़ता है क्योंकि मेडिकल बोर्ड सर्टिफिकेट आजकल हर यात्रा करने वाले रोजगार आवेदन करने वाले रोजगार प्राप्त करने वाले एवं अन्य गतिविधियों में भाग लेने वाले और यहां तक की परीक्षा में शामिल होने के लिए आवश्यक हो गया है। 

जबलपुर में मेडिकल बोर्ड प्रमाण पत्र के लिए दलाल सक्रिय हो गए हैं

निजी संस्थाओं मे व सेमी गवर्नमेंट संस्था में भी आजकल मेडिकल बोर्ड प्रमाण पत्र के बाद ही रोजगार दिया जाता है और यह प्रत्येक सरकारी नौकरी प्राप्त करने वालों के लिए अत्यंत आवश्यक है। उसके बिना कोई नौकरी ज्वाइन नहीं कर सकता है। वर्तमान में कॉलेजों में प्रवेश के लिए भी मेडिकल बोर्ड की आवश्यकता होती है। ऐसे में सप्ताह में केवल 2 दिन मेडिकल बोर्ड बैठने से समस्त जन समुदाय को अत्यंत परेशानी का सामना करना पड़ता है। जिला चिकित्सालय के चक्कर लगाने पड़ते हैं और लोगों को दलालों के चक्रव्यूह में भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है। मेडिकल बोर्ड सप्ताह में 2 दिन होने के कारण कर्मचारियों को भी भारी भीड़ का सामना करना पड़ता है और अव्यवस्था हो जाती है।

संघ से प्रान्ताध्यक्ष प्रमोद तिवारी जिला अध्यक्ष अर्वेन्द्र राजपूत अवधेश तिवारी अटल उपाध्याय  रावर्ट मार्टिन आलोक अग्निहोत्री मुकेश सिंह दुर्गेश पांडेय सतीश उपाध्याय आशुतोष तिवारी बृजेश मिश्रा सुरेंद्र  जैन मुन्ना लाल पटेल वीरेंद्र चंदेल एसपी बाथरे मनोज सिंह मुकेश मिश्रा शरद मिश्रा  चूरामन गुर्जर सीएन शुक्ला प्रियांशु शुक्ला संतोष तिवारी मो तारिक महेश कोरी धीरेंद्र सोनी आदि ने कलेक्टर  महोदय से मांग की है  जिला चिकित्सालय मे मेडिकल बोर्ड को सप्ताह में प्रतिदिन कराने के आदेश शीघ्र प्रसारित किए जाएं।

29 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here