Loading...    
   


CMD NCL Sir, भर्ती परीक्षा में धांधली हुई है, टॉपर्स की योग्यता परीक्षण कराएं

प्रति, श्रीमान चेयरमैन मैनेजिंग डायरेक्टर (सीएमडी) NCL सिंगरौली मप्र
। मान्यवर, सविनय नम्र निवेदन है कि एनसीएल का जो परीक्षा 29-11-2020 को हुआ था उसमें हरियाणा के कुछ परीक्षार्थी (6 लोग) ब्लूटूथ के माध्यम से परीक्षा देते पकड़े गए थे जिनके उपरांत एनसीएल ने उनके ऊपर कार्यवाही करके उनको परीक्षा से बाहर कर दिया था, लेकिन दिनांक 2-1-2021 को HEMM की लिस्ट आने के बाद देखा गया कि हरियाणा के ही ज्यादातर बच्चे व जिनके माता-पिता या रिश्तेदार एनसीएल में पहले से पदस्थ हैं उनके बच्चे ही 90 से ऊपर स्कोर किए हैं यह लिस्ट आने के बाद हमने बहुत ज्यादा विसंगति पाई है। विसंगतियां निम्न है- 

1- संदीप जिसका रोल नंबर 8710 4535 है उसके पहले मार्क्स 97 दिखाया गया लेकिन लिस्ट में 98 कर दिया गया है।
2- शकीन जिसका रोल नंबर 8761 8100 है इस से बात करने पर इस ने कबूल किया है कि मेरे भाई कुछ करके मुझे 91 मार्क्स दिलवाए हैं जिसकी रिकॉर्डिंग हमारे पास है।
3- पेपर का लेबल बहुत कठिन होने के बाद भी 160 बच्चे 90 के ऊपर आए हैं जिससे ऐसी आशंका है कि जो ब्लूटूथ वाले बस पकड़े गए थे उनके अलावा भी ऐसे बहुत से परीक्षार्थी थे जो पकड़े नहीं गए थे।
4- कुछ बच्चे ऐसे हैं जिनका पहले पेपर में 95, 94, 93 आया है और सेकंड पेपर में जो उनके सब्जेक्ट से रिलेटेड था इसमें वह 50% मार्क भी प्राप्त नहीं कर पाए हैं।

हमारी मांगे निम्न है-
1- 80 के ऊपर मार्क लाने वाले लड़कों को एनसीएल अलग से बुलाकर कमेटी बैठा के उनसे एग्जाम के प्रश्न से संबंधित जानकारी ली जाए, जैसे बिहार में टॉपर को बुलाकर आयोग ने उनका फिर से टेस्ट लिया और अयोग्य घोषित कर कार्यवाही की।
2- यदि बहुत ज्यादा बच्चों के आंसर संतुष्ट पूर्ण ना पाए जाएं तो एग्जाम कैंसिल करके ऑनलाइन एग्जाम कराने की व्यवस्था की जाए।
3- जब तक इसकी सही से जांच ना हो तब तक डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन को स्थगित किया जाए। 

4- हम सभी बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ ना किया जाए अन्यथा हम एनसीएल के सामने अनिश्चित दिनों तक भूख हड़ताल में बैठेंगे।
5- जब तक सही से जांच ना हो जाये  हम डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के पक्ष में नहीं है और ना ही एनसीएल ऐसा करें।
6- प्रथम दृष्टया तो यदि 6 लोग ब्लूटूथ डिवाइस के साथ नकल करते पकड़े गए थे तो एग्जाम कैंसिल जैसे कार्यवाही एनसीएल को पहले ही करनी चाहिए थी उसी कारण के यह हो रहा है कि 90 परसेंट लाकर भी कैंडिडेट जॉइनिंग से बाहर हो रहा है।
ARVIND KUMAR KUSHWAHA 
arvindkk814@gmail.com

7 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे हैं समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here