Loading...    
   


BHOPAL: बहन छत पर गयी थी, लौटी तो भाई फंदे पर लटका था - MP NEWS

भोपाल।
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 19 साल के एक लड़के ने घर में दुपट्‌टे से फांसी लगा ली। शाम को वह अपनी छोटी बहन के साथ फ्लैट में था। बहन के निकलते ही 20 मिनट के अंदर उसने सुसाइड कर लिया। पड़ोसी फंदा काटकर उसे अस्पताल ले गए, लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। हालांकि पुलिस को ना तो कोई सुसाइड नोट मिला है और ना ही परिजनों ने किसी तरह की कोई शंका जाहिर की है। 

शाहपुरा पुलिस के अनुसार इंद्रा नगर मल्टी, शाहपुरा में रहने वाला 19 साल का मयंक मसानी पिता भाईराम मसानी फिलहाल कोई काम नहीं करता था। वह पढ़ाई भी नहीं कर रहा था। पिता भाईराम ने बताया कि सोमवार शाम को मयंक और छोटी बेटी फ्लैट पर थी। वे और उनकी पत्नी और बड़ा बेटा जॉब पर गए थे। करीब 5:30 बजे बेटी कपड़े सुखाने के लिए छत पर गई। इसी दौरान मयंक ने अंदर से दरवाजा लगा कर खुद को बंद कर लिया।बेटी जब करीब 20 मिनट बाद नीचे आई, तो फ्लैट का दरवाजा अंदर से बंद था। उसने काफी दरवाजा खटखटाया, लेकिन मयंक ने कोई जवाब नहीं दिया। अब तक पड़ोसी जमा हो गए थे। वह किसी तरह दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंचे तो मयंक पंखे पर दुपट्टे का फंदा लगाकर फांसी लगा चुका था। फंदा काटकर किसी तरह उसे नर्मदा अस्पताल ले गए, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस को घटना की सूचना अस्पताल प्रबंधन से मिली।

पुलिस ने शव बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मामले की जांच कर रहे एसआई धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि फिलहाल कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। परिजनों ने भी किसी तरह का अब तक कोई बयान नहीं दिया है। उन्होंने कोई शंका भी जाहिर नहीं की है। छोटी बहन सदमे में है। इसलिए उससे बात नहीं हो पाई है। उससे बातचीत होने के बाद ही घटनाक्रम के बारे में सही-सही पता चल सके।

12 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here